कर्नाटक की सरकार की नियति गिरना ही थी, उनका गठबंधन स्वार्थों का था : शिवराज चौहान

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कर्नाटक की सरकार की नियति में ही गिरना लिखा था.

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 24, 2019, 4:00 PM IST
कर्नाटक की सरकार की नियति गिरना ही थी, उनका गठबंधन स्वार्थों का था : शिवराज चौहान
कर्नाटक की सरकार की नियति गिरना ही थी, उनका गठबंधन स्वार्थों का था : शिवराज चौहान
Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 24, 2019, 4:00 PM IST
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कर्नाटक की सरकार की नियति में ही गिरना लिखा था. वहां स्वार्थों का गठबंधन था. उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक धोखा देने वाली धोखेबाज पार्टी है. शिवराज ने कहा कि कांग्रेस कभी भी गठबंधन धर्म नहीं निभाती है. वो हमेशा ही पीठ में छुरा खोपती है. कांग्रेस का इतिहास रहा है कि उसने समर्थन दिया, लेकिन साथ कभी नहीं दिया. इसका उदाहरण देते हुए शिवराज बोले कि चौधरी चरण सिंह, चन्द्रशेखर, देवगौड़ा, गुजराल को कांग्रेस ने समर्थन दिया, लेकिन बाद में गिरा दिया.

मध्य प्रदेश में सरकार गिराने की सियासत तेज

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कर्नाटक के बाद अब मध्य प्रदेश में सरकार गिराने की सियासत तेज हो गई है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का कहना है कि कर्नाटक सरकार की नियति में गिरना ही लिखा था. वहीं उन्होंने कहा कि एचडी कुमारस्वामी के प्रति उनकी बहुत सहानुभूति है. कुमारस्वामी शुरुआत से ही रोते रहे हैं. अंतिम दिन भी रोते-रोते ही विदाई हुई. उन्होंने कहा कि अब जो कांग्रेस के साथ जो जाएगा उसका यही हाल होगा.

मध्य प्रदेश में सरकार गिराने की सियासत तेज


'सरकार गिराने में बीजेपी की कोई रुचि नहीं'

शिवराज ने कहा कि सरकार गिराने में बीजेपी की कोई रुचि नहीं है. अपने अंतर विरोध से ही मध्य प्रदेश में सरकार गिर जाएगी. समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और निर्दलीय के अलावा कांग्रेस खुद गुटों में बंटी हुई है. अब कौन गुट कहां जाएगा, क्या करेगा, कौन किसका दोस्त है और किसका दुश्मन कुछ पता नहीं है. कांग्रेस की सरकार लूली लंगड़ी है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज ही नहीं है. जब तक चल जाए, क्योंकि चलती का नाम गाड़ी है.

ये भी पढ़ें:- 11 साल बाद पूर्व MLA को मिला एक साल का कारावास... 
Loading...

ये भी पढ़ें:- गुना के 30 पुलिसकर्मियों पर राजस्थान में FIR दर्ज...
First published: July 24, 2019, 2:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...