कोरोना की तीसरी लहर से जंग की तैयारी में जुटी सरकार, बच्चों के लिए बेड्स और आईसीयू वार्ड बनाए जा रहे

शिवराज सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए तैयारी शुरू कर दी है. (File)

Preparation For Third Wave Of Corona: मध्य प्रदेश सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी को देख तैयारियां शुरू कर दी हैं. सरकार बच्चों के लिए आईसीयू बेड्स (ICU Beds) सहित तमाम सुविधाएं जुटाई जा रही हैं. राज्य के 13 मेडिकल कॉलेजों में 1267 बेड्स बढ़ाए जा रहे हैं..

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने कहर बरपा रखा है. विशेषज्ञों ने कोरोना की तीसरी लहर आने की भी चेतावनी दी है. विशेषज्ञों ने चेताया है कि कोरोना की तीसरी लहर से बच्चे सबसे ज्यादा संक्रमित हो सकते हैं. लिहाजा संक्रमण की तीसरी लहर से निपटने के लिए सरकार ने पहले से तैयारियां शुरू कर दी हैं. तीसरी लहर से निपटने के लिए स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने और बढ़ाने की कवायद की जा रही है.

विशेषज्ञों की मानें तो कोरोना की तीसरी लहर के दौरान बच्चे बड़ी संख्या में संक्रमित हो सकते हैं. प्रदेश के मेडिकल कॉलेज और कोविड अस्पतालों में सर्वसुविधायुक्त ICU वार्ड तैयार हो रहा है. 360 बिस्तरों के साथ ICI वार्ड की तैयारी शुरू हो गई है. भोपाल के हमीदिया अस्पताल में 50 बिस्तर का बच्चों का ICU तैयार हो रहा है.

बच्चों के इलाज के लिए दवाओं की करनी होगी व्यवस्था
कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी के बाद सरकार इससे निपटने की तैयारी में जुटी है. चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने संक्रमण से बच्चों के उपचार के लिए अस्पतालों में सभी जरूरी दवाइयां, इंजेक्शन, कंज्यूमेंबल्स के साथ स्वास्थ्य उपकरण उपलब्ध कराने के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं.



पहले चरण में बढ़ाये जाएंगे 1267 बेड्स,767 ICU बेड होंगे तैयार
कोरोना की तीसरी लहर से पहले सरकार तैयारियां में जुटी हुई है. कोविड मरीजों की संख्या बढ़ने से पहले प्रदेश भर के कोविड अस्पतालों में ही बेड और ICU वार्डों की संख्या बढ़ाई जा रही है. प्रदेश के 13 मेडिकल कॉलेज के अस्पतालों में पहले चरण में 1267 बेड बढ़ाये जा रहे हैं. 767, ICU और HDU बेड बढ़ाने तैयारियां शुरू हो गयी है.

तैयारियों को लेकर अधिकारियों के साथ समीक्षा
कोरोना की तीसरी लहर से से पहले सरकार अब तैयारियों को चुस्त-दुरुस्त करने में जुटी हुई है. चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के 13 शासकीय मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के डॉक्टरों और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ मंथन किया. चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने सभी अस्पतालों में बेड बढ़ाने, आवश्यक उपकरण, संयंत्र एवं अन्य सामग्री को तत्काल खरीद कर स्वास्थ्य सुविधाओं का बेहतर तंत्र और आधारभूत संरचना (Basic Infrastructure) स्थापित करने के निर्देश दिए हैं.