लाइव टीवी

पूर्व मंत्री तरुण भनोट सरकारी बंगले से बेदखल, बाकी को अल्टीमेटम
Bhopal News in Hindi

Anurag Shrivastav | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 20, 2020, 5:50 PM IST
पूर्व मंत्री तरुण भनोट सरकारी बंगले से बेदखल, बाकी को अल्टीमेटम
पूर्व मंत्री तरुण भनोट का सरकारी बंगला खाली कराया

संपदा विभाग ने जो नोटिस जारी किया उसमें लिखा है कि पूर्व मंत्रियों (ex ministers) को 20 मई की शाम तक सरकारी आवास (government house) खाली करना होगा. वरना बेदखली की कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में सत्ता बदलने के बाद अब बीजेपी सरकार (bjp government) ने उन पूर्व मंत्रियों के खिलाफ एक्शन लेना शुरू कर दिया है, जिन्होंने सत्ता जाने के बाद भी सरकारी बंगले खाली नहीं किए हैं. इसकी शुरुआत पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट से हो गयी है. संपदा विभाग की टीम ने आज भोपाल में उनका बंगला खाली करा लिया. भनोट इस वक्त जबलपुर में हैं. उन्होंने कहा लॉक डाउन (lockdown) के कारण वो भोपाल नहीं पहुंच पाए, ऐसे में ये कार्रवाई बदले की भावना से की जा रही है.

गृह विभाग इन पूर्व मंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का नोटिस पहले ही थमा चुका था. उसके बाद उसने आज शाम तक घर छोड़ने का अल्टीमेटम दिया था.

संपदा ने आज से शुरू की कार्रवाई 
सरकारी आवास खाली कराने की कार्रवाई संपदा ने आज से शुरू कर दी है.इसकी शुरुआत पूर्व वित्तमंत्री तरुण भनोट के सरकारी आवास से हुई है. दरअसल ये आवास बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा को एलॉट कर दिया गया है. इस घर कोखाली करने के लिए दो बार नोटिस जारी किए गए थे. लेकिन नोटिस जारी होने के बाद भी बंगला खाली नहीं होने पर आज संपदा और पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने मौके पर पहुचकर बंगला खाली कराने की कार्रवाई की.



बदले की कार्रवाई


कांग्रेस ने इसे राजनीतिक द्वेष से की गई कार्रवाई बताया. पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट ने कहा लॉक डाउन में सरकारी आवास खाली कराना राजनीतिक द्वेष से प्रेरित है. मैं और मेरा परिवार इस समय जबलपुर में हैं. लॉक डाउन होने के कारण भोपाल नहीं पहुंच पा रहा हूं. ऐसे में मेरी गैर मौजूदगी में सरकारी आवास खाली कराना ठीक नहीं है. विधायक की हैसियत से मुझे सरकारी बंगला मिलना चाहिए लेकिन नया घर एलॉट किए बिना सामान निकालना कहां तक ठीक है.

....वरना बेदखल कर दिए जाएंगे
संपदा विभाग ने बंगला खाली करने के जो नोटिस जारी किए हैं उसमें साफ लिखा है कि सरकार जाने के बाद आप का आवंटन स्वत निरस्त हो जाता है. ऐसे में आप सरकारी घर खाली करें. इसके बाद एक और नोटिस संपदा की तरफ से जारी किया गया था. उसमें लिखा गया है कि पूर्व मंत्रियों को 20 मई की शाम तक सरकारी आवास खाली करना होगा. वरना बेदखली की कार्रवाई की जाएगी.

इन पूर्व मंत्रियों को नोटिस
गृह विभाग ने बेदखली का नोटिस पूर्व मंत्री तरुण भनोट, सज्जन सिंह वर्मा, हुकुम सिंह कराड़ा, बृजेंद्र सिंह राठौर, ओमकार सिंह मरकाम, प्रियव्रत सिंह, सुखदेव पांसे, उमंग सिंगार, पीसी शर्मा, कमलेश्वर पटेल, लखन घनघोरिया, सचिन यादव और सुरेंद्र बघेल को जारी किया है.

सरकार ने कहा-सामान्य प्रक्रिया
प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा सरकारी आवास खाली कराना सामान्य प्रक्रिया है. मकान किस को आवंटित किया जाना है इसका अधिकार मुख्यमंत्री को है. किसी भी तरह के राजनीतिक द्वेष से कार्रवाई से गृह मंत्री ने इनकार किया है.

ये भी पढ़ें-

VIDEO : MP में टिड्डी दल का हमला: DJ वाले बाबू ने फिर जोर से बजाया गाना

पुलिस ने कोरोना पेशेंट्स के लिए खोले अपने अस्पतालों के गेट

First published: May 20, 2020, 1:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading