होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /एमपी में अब राशन सप्लाई की होगी जीपीएस निगरानी, एक्शन में सरकार- दो अफसर सस्पेंड

एमपी में अब राशन सप्लाई की होगी जीपीएस निगरानी, एक्शन में सरकार- दो अफसर सस्पेंड

MP. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय में बैठक ली.

MP. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय में बैठक ली.

MP NEWS. खाद्य आपूर्ति निगम के अध्यक्ष प्रद्युम्न सिंह लोधी ने बताया कि राशन की सप्लाई में गड़बड़ी की कई जिलों से शिकाय ...अधिक पढ़ें

भोपाल. प्रदेशभर की राशन दुकानों में हितग्राहियों को समय पर राशन नहीं मिलने और राशन कम मिलने की शिकायत पर अब सरकार एक्शन में है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बीते दिनों श्योपुर की बैठक में ये शिकायत आयी थी. उसके बाद खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने सख्ती शुरू कर दी है. राशन कहां और कैसे सप्लाई हो रहा है इसकी जीपीएस से निगरानी की जाएगी.

खाद्य आपूर्ति निगम के अध्यक्ष प्रद्युम्न सिंह लोधी ने बताया कि राशन की सप्लाई में गड़बड़ी की कई जिलों से शिकायतें मिल रही थीं. राशन दुकानों पर समय पर राशन नहीं पहुंच रहा था. कई जगह ये पता चला कि सरकारी कोटे का राशन निजी दुकानों पर बेच दिया गया. ऐसे में अब जिन ट्रकों के जरिए दुकानों में राशन सप्लाई होता है उनकी बारीकी से मॉनिटरिंग होगी. इसके लिए टेंडर जारी किए गए हैं. हर ट्रक की जीपीएस के जरिए भोपाल से मॉनिटरिंग की जाएगी. यदि कहीं गड़बड़ी होती है तो तत्काल संबंधित एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई होगी.

2 साल का गेहूं का स्टॉक
निगम अध्यक्ष ने बताया कि फिलहाल राज्य में गेहूं और चावल का पर्याप्त स्टॉक मौजूद है. राज्य सरकार के दिशा निर्देशों के तहत ही जिलों को गेहूं अलॉट किया जा रहा है. कई जिलों से सिर्फ चावल मिलने की शिकायतें आ रही थीं. इस पर निगम अध्यक्ष ने कहा राज्य सरकार कोटा जारी करती है उसके बाद निगम गेहूं और चावल की सप्लाई जिलों में करता है. फिलहाल प्रदेश में अगले 2 साल के लिए गेहूं का स्टॉक रखा गया है.

ये भी पढ़ें- दिवाली-छठ पूजा के लिए स्पेशल ट्रेन, मुंबई-बलिया- गोरखपुर जाने वाले यात्री नोट करें दिन और समय

मुख्यमंत्री ने जताई थी नाराजगी
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीते दिनों श्योपुर की समीक्षा बैठक में राशन दुकानें समय पर नहीं खुलने और योजनाओं का लाभ हितग्राहियों को नहीं मिलने पर नाराजगी जताई थी. मुख्यमंत्री ने अफसरों को सख्त हिदायत दी थी कि गरीब तक सही समय से राशन पहुंचे. किसी से अनुचित पैसे का लेनदेन बर्दाश्त नहीं होगा. मुख्यमंत्री ने जिलों से मिली शिकायतों के बाद एक्शन लेते हुए जिला खाद्य अधिकारी को सस्पेंड कर दिया था. सीएम शिवराज के एक्शन से विभाग में हड़कंप है. इसी वजह से अब राशन व्यवस्था दुरुस्त करने की कवायद की जा रही है.

 सख्ती में सरकार
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक्शन में नजर आ रहे हैं. बीते दिनों झाबुआ में छात्रों की अनसुनी करने पर कलेक्टर एसपी को हटाया था. इसके बाद डिंडोरी में जिला खाद्य अधिकारी अहिरवार को सस्पेंड किया था. इसी के बाद 28 सितंबर को श्योपुर की समीक्षा बैठक में भी जिला खाद्य अधिकारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया. अब मुख्यमंत्री के मूड को देखते हुए अब व्यवस्था को दुरुस्त किया जा रहा है ताकि राशन व्यवस्था से लेकर दूसरी योजनाओं पर बेहतर तरीके से अमल हो सके.

Tags: Bhopal news, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें