MP : 19,000 हेल्थ वर्करों ने की अनिश्चिकालीन हड़ताल, महामारियों के बीच क्या होगा इसका असर!

मप्र के हड़ताली स्वास्थ्यकर्मियों ने थाली व शंख बजाकर प्रदर्शन किया.

मप्र के हड़ताली स्वास्थ्यकर्मियों ने थाली व शंख बजाकर प्रदर्शन किया.

ये 'कोरोना योद्धा' अपनी समस्याएं और मांगें प्रदेश सरकार को बता रहे थे, लेकिन इनका कहना है कि कोई नतीजा नहीं निकला. सैलरी न मिलने, कम मिलने, मिलने में दिक्कतें होने से परेशान इन वर्करों की हड़ताल को समझें.

  • Share this:

भोपाल. एक तरफ, मध्य प्रदेश में कोरोना और ब्लैक फंगस के कहर की खबरें लगातार बनी हुई हैं, तो दूसरी तरफ बड़ी खबर यह है कि इन हालात में करीब 19,000 हेल्थकेयर वर्कर बेमियादी हड़ताल पर चले गए हैं. ये स्वास्थ्यकर्मी अनुबंधित हैं, इस हड़ताल में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारी शामिल हैं. हड़तालियों का दावा है कि महामारी के दौरान बने कठिन समय में इन्होंने परमानेंट या स्थायी कर्मचारियों से कम काम नहीं किया, फिर भी इनका वेतन बहुत कम होना इनके साथ अन्याय है.

मध्यप्रदेश में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल के दूसरे दिन मंगलवार को ज़िला मुख्यालय पर थाली और शंख बजाकर प्रदर्शन किया. इस प्रदर्शन के दौरान सोशल डिस्टेंस और कोरोना गाइडलाइन का पालन किया गया. कर्मचारी पीपी किट में भी नजर आए. भोपाल के जेपी अस्पताल में प्रदर्शन के दौरान थाली और शंख बजाकर अपनी मांगों की तरफ शासन प्रशासन का ध्यान खींचने की कोशिश की गई.

ये भी पढें: ब्लैक फंगस: एक आंख खो चुके पिता के लिए बेटी ने लगाई गुहार, CM ने दिया 60 इंजेक्शनों का भरोसा

इन स्वास्थ्यकर्मियों की हड़ताल के चलते सरकारी अस्पतालों के तंत्र में सेवाओं के प्रभावित होने की बात कही जा रही है. वास्तव में, इन कर्मचारियों की अहमियत 'मास्टर की' जैसी रही है यानी इन्हें ज़रूरत पड़ने पर हर तरह के कामों में इस्तेमाल किया जाता रहा, मसलन आशा वर्करों की रिपोर्ट मेंटेन करने, डेटा कलेक्शन, वॉर्ड ड्यूटी, वैक्सीन व दवाओं के ट्रांसपोर्ट, सैंपल कलेक्शन और टेस्टिंग यानी जहां मेडिकल स्टाफ की कमी पड़ी, इन्हें इस्तेमाल किया गया.  न्यूज़18 ने आपको हाल में बताया था कि किस तरह ये स्वास्थ्यकर्मी चरणबद्ध ढंग से हड़ताल करने जा रहे हैं.
पढ़ें : मध्य प्रदेश के हेल्थवर्कर बांधेंगे काली पट्टी, भीख मांगेंगे, काले गुब्बारे भी छोड़ेंगे

madhya pradesh news, healthcare in madhya pradesh, medical staff strike, healthcare workers strike, मध्य प्रदेश न्यूज़, मध्य प्रदेश में हेल्थ केयर, मेडिकल स्टाफ की हड़ताल, हेल्थ वर्करों की हड़ताल
प्रदर्शनकारी स्वास्थ्यकर्मी मप्र सरकार और सीएम से गुहार लगा रहे हैं.

'उज्जैन में दो माह से सैलरी नहीं मिली'

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज