भोपाल में कोरोना मरीजों को सरकार देगी खाना, आज से शुरू हुई स्वस्थ आहार सेवा योजना

सरकार इस योजना में सामाजिक संस्थाओं की मदद लेगी.

सरकार इस योजना में सामाजिक संस्थाओं की मदद लेगी.

Bhopal.शहर के 110 अस्पतालों में खाने की सुविधा नहीं है. विश्वास सारंग ने कहा मरीज के परिवार वाले जब अस्पताल में खाना देने जाते हैं तो उन्हें भी संक्रमण का खतरा बना रहता है. ऐसे में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए यह योजना कारगर साबित होगी.

  • Share this:
भोपाल. राजधानी भोपाल (Bhopal) में सरकार ने आज से कोरोना मरीज़ों (Corona Patients) के लिए स्वस्थ आहार सेवा योजना शुरू की. ये सुविधा उन अस्पतालों के लिए है जहां कोरोना मरीजों के लिए खाने का इंतज़ाम नहीं है. योजना के तहत सरकार शहर की सामाजिक संस्थाओं की मदद से मरीजों को पौष्टिक खाना उपलब्ध कराएगी.

भोपाल में इस योजना को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया है. यदि सब ठीक चला तो फिर इसे बाकी जिलों में लागू किया जाएगा.

कोविड मरीज़ों के लिए खाना

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कोविड मरीजों को सरकार की तरफ से निशुल्क भोजन सेवा उपलब्ध कराई जा रही है. जिन अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों को भोजन नहीं दिया जाता उन अस्पतालों में खाना पहुंचाया जाएगा.
110 अस्पतालों में भोजन सुविधा नहीं

शहर के 110 अस्पतालों में खाने की सुविधा नहीं है. विश्वास सारंग ने कहा मरीज के परिवार वाले जब अस्पताल में खाना देने जाते हैं तो उन्हें भी संक्रमण का खतरा बना रहता है. ऐसे में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए यह योजना कारगर साबित होगी.





मरीज़ों के तीमारदारों को भोजन

सरकार इस योजना में शहर की बड़ी संस्थाओं और एनजीओ की मदद ले रही है. एम्स, जेके, पीपुल्स हमीदिया सहित कई अस्पतालों में मरीजों को खाना मुहैया कराया जा रहा है. जो मरीज बाहर से आए हैं उनके परिवार भी उनके साथ ही भोपाल में डेरा डाले हुए हैं. ऐसे में शहर की कई सामाजिक संस्थाएं इन लोगों तक खाने के पैकेट पहुंचा रही हैं. रोजाना संस्थाओं की गाड़ी अस्पतालों के बाहर देखी जा सकती है. जरूरतमंद लोगों को खाने के पैकेट दिए जाते हैं ताकि उन्हें भटकना न पड़े.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज