लाइव टीवी

मध्य प्रदेश: मौसम ने ली करवट, तेज हवा के साथ कई जिलों में ओले गिरने से ठंड बढ़ी

Puja Mathur | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 12, 2019, 11:27 PM IST
मध्य प्रदेश: मौसम ने ली करवट, तेज हवा के साथ कई जिलों में ओले गिरने से ठंड बढ़ी
अगले तीन दिनों तक बारिश और धुंध के साए में रहेगा प्रदेश.

मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में शाम 5 बजे से तेज बारिश (Rain) के साथ ओले गिरने से सर्दी बढ़ गई है. जबकि मौसम विभाग (Meteorological Department) के विशेषज्ञों ने 13 दिसंबर को प्रदेश के कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि की संभावना भी जताई है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में मौसम ने करवट बदल ली और शाम 5 बजे से भोपाल में तेज बारिश का दौर शुरू हो गया. भोपाल और देवास के साथ ही प्रदेश के कई अन्य जिलों में भी बारिश (Rain) के साथ ओले गिरे. हालांकि मौसम विभाग (Meteorological Department) के विशेषज्ञों ने बारिश की चेतावनी पहले ही जारी कर दी थी. जबकि मौसम वैज्ञानिक पीके साहा (PK Saha) के अनुसार पश्चिम विक्षोभ का असर मध्य प्रदेश में दिखने लगा है, इस कारण बारिश हुई है. विभाग का अनुमान है कि ऐसी स्थिति अगले तीन दिनों तक बरकरार रह सकती है. यही नहीं, होशंगाबाद में तेज बारिश के कारण किसानों का धान भीग गया. हालांकि मंडियों में खुले में रखे धान को किसानों ने तिरपाल डालकर बचाने की कोशिश की.

एमपी में ओलावृष्टि की चेतावनी
उत्तर भारत में हुई बर्फबारी के बाद मध्य प्रदेश में भी ठंड बढ़ती जा रही है जिससे तापमान में गिरावट आ गई है और कई जिलों में कोहरा छाने लगा है. मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि 13 दिसंबर को एमपी के कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि की संभावना है जिसको लेकर मौसम वैज्ञानिकों ने चेतावनी भी जारी कर दी है. प्रदेश में पचमढ़ी और बैतूल का पारा सबसे कम पहुंच गया है. दोनों ही जगहों पर करीब 8 डिग्री से न्यूनतम तापमान दर्ज किया जा रहा है. मौसम विभाग की ओर से संभावना जताई जा रही है कि कई स्थानों पर गरज के साथ कल भी बारिश हो सकती है, जिससे सर्दी और बढ़ जाएगी.

कोहरे के साए में होगा एमपी

मौसम विभाग ने आने वाले समय के लिए पूर्वानुमान जारी किया है, जिसके मुताबिक प्रदेश में अगले 24 घंटों के दौरान भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, ग्वालियर, दतिया, छतरपुर, टीकमगढ़, रीवा, सतना और शाजापुर जिले में कोहरा छा जाएगा. इस कारण दृश्यता में कमी आएगी.

कहां कितनी बारिश
मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वरिष्ठ वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि भोपाल में बारिश शाम से हुई है. इससे ठंड बढ़ने लगी है. साहा ने बताया कि 12 से 14 दिसंबर के बीच ग्वालियर, चंबल एवं सागर संभाग के जिलों तथा भोपाल संभाग के राजगढ़ जिले में कहीं कहीं ओलावृष्टि हो सकती है. इसके बाद आसमान साफ हो जाएगा. मौसम का मिजाज फिर बदलने के साथ कड़ाके की ठंड शुरु होगी. गुरुवार को प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 7.8 डिग्री पचमढ़ी में रिकार्ड हुआ. बैतूल में 8.2, उमरिया में 9.4, ग्वालियर में 9.6, दतिया में 9.9 और रीवा में 10.2 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया.ये भी पढ़ें-

MP में कांग्रेस से ज्यादा हाईटेक हुए BJP विधायक, इस मामले में मार ली बाजी

कमलनाथ के मंत्री आरिफ अकील का विवादित बयान, CAB को लेकर कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 10:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर