लाइव टीवी

कमलनाथ बोले- आज के बाद कल भी आएगा... यहां पढ़िए प्रेस कॉन्फ्रेंस की प्रमुख बातें
Bhopal News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: March 20, 2020, 4:20 PM IST
कमलनाथ बोले- आज के बाद कल भी आएगा... यहां पढ़िए प्रेस कॉन्फ्रेंस की प्रमुख बातें
कमलनाथ के भाषण की प्रमुख बातें

कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार पर किसी घोटाले का आरोप नहीं लगा. हम हर चुनौती का डटकर मुकाबला करेंगे. बीजेपी षड्यंत्र कर मेरे हौसलों को नहीं डिगा सकती

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में एक पखवाड़े से ज़्यादा वक्त तक चले सियासी ड्रामे के बाद सीएम कमलनाथ (kamalnath) ने इस्तीफे की घोषणा कर दी. उन्होंने सीएम निवास में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और इन 15 महीनों में अपनी सरकार के काम गिनाए. उन्होंने विकास की बात भी की और हिंदुत्व के मुद्दे गिनाना भी नहीं भूले. उन्होंने इन सारे हालात के लिए बीजेपी और उसके षडयंत्र को ज़िम्मेदार ठहराया. फिर कहा-  'आज के बाद कल और कल के बाद परसों भी आएगा.'

एक नज़र प्रेस कॉन्फ्रेंस की प्रमुख बातों पर
1- सीएम कमलनाथ ने सरकार गिराने के लिए पूरी तरह बीजेपी और उसके षडयंत्र को जिम्मेदार ठहराया. कमलनाथ ने कहा कि मेरी सरकार ने 15 महीने में जो विकास कार्य किए बीजेपी को रास नहीं आए. पहले ही दिन से बीजेपी ने षडयंत्र शुरू कर दिया था. प्रदेश की जनता के साथ विश्वासघात किया गया.

2- कमलनाथ ने कहा बीजेपी ने एमपी को माफिया राज बना दिया था. हमारी सरकार ने एमपी को माफिया मुक्त राज्य बनाने की मुहिम शुरू की थी. बीजेपी को ये रास नहीं आया. मेरे जन हितैषी काम बीजेपी को रास नहीं आए.



3- कमलनाथ ने अपने भाषण में लगातार हिंदुत्व से जुड़े मुद्दों का ज़िक्र किया. उन्होंने याद दिलाया कि अपनी सरकार के 15 महीने के कार्यकाल में उन्होंने रामपथगमन, सीता मंदिर और गौशाला बनाने का काम शुरू किया. बीजेपी को ये भी रास नहीं आ रहा था.

4- कमलनाथ ने कहा कि चुनाव में कांग्रेस सबसे ज़्यादा सीटें जीतकर आयी थी. बीते 15 महीनों में प्रदेश को नई दिशा देने की और राज्य की तस्वीर बदलने के लिए किया काम. हमारी कोशिश रही कि एमपी की तुलना देश के विकसित राज्यों से हो.

5- कमलनाथ ने अपने भाषण में भी कांग्रेस के बागी 22 विधायकों के बारे में भी ज़िक्र किया. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के 22 विधायकों को बंधक बनाकर उनके साथ प्रलोभन का खेल खेला गया.

6- हमारी सरकार ने जनता को शक्तिशाली बनाने की कोशिश की. इन 15 महीनों में ही जनता जानने लगी थी कि सरकार क्या होती है.

7- कमलनाथ ने कहा विधानसभा में कई बार बहुमत साबित किया. लेकिन BJP ने लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या कर दी. प्रदेश की जनता के साथ विश्वासघात हुआ. सरकार को अस्थिर करने की कोशिश पहले ही दिन से शुरू हो गयी थी. कहा गया कि ये 15 दिन की सरकार है.

8- कमलनाथ ने कहा कि सरकार ने 15 महीनों में 2 लाख किसानों का कर्जा माफ किया. मेरी सरकार ने मजदूरों और किसानों के लिए काम किया. हमने झूठे वादे नहीं किए. BJP ने लगातार किसानों के साथ धोखा किया.

9- कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार पर किसी घोटाले का आरोप नहीं लगा. हम हर चुनौती का डटकर मुकाबला करेंगे. बीजेपी षड्यंत्र कर मेरे हौसलों को नहीं डिगा सकती. उन्होंने कहा कि आज के बाद कल और कल के बाद परसों आता है.

(अनुराग श्रीवास्तव का इनपुट)

ये भी पढ़ें :-

OPINION: कांग्रेस क्यों लगातार दे रही थी बीजेपी को तख्तापलट का मौका!

MP में सियासी संकट: स्पीकर एन पी प्रजापति बोले- बागी विधायक मुझसे नहीं मिले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 1:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर