Assembly Banner 2021

होली पर कोरोना संकट: भोपाल में टूटेगी 100 साल की परंपरा, इंदौर में 20 लोग कर सकेंगे होलिका दहन

कोरोना काल की वजह से मध्य प्रदेश में होली इस बार फीकी ही रहेगी. (File)

कोरोना काल की वजह से मध्य प्रदेश में होली इस बार फीकी ही रहेगी. (File)

होली पर कोरोना संकट: मध्य प्रदेश में होली इस बारी वैसी नहीं मनाई जाएगी, जैसी मनाई जाती है. संक्रमण के कारण पूरे प्रदेश में सख्त पाबंदी है. भोपाल में तो 100 साल की परंपरा टूटेगी. शासन ने लोगों से अनुशासन की अपील की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 8:41 AM IST
  • Share this:
भोपाल/इंदौर/देवास. मध्य प्रदेश में इस बार होली पर कोरोना का संकट छाया रहेगा. भोपाल में जहां पुरानी परंपरा टूटेगी, वहीं इंदौर में सख्त पाबंदी के बीच होलिका दहन होगा. कई शहरों में सख्ती बरतने के लिए पुलिस ने मार्च पास्ट भी किया है. होली पर रंग-गुलाल और पिचकारियों का बाजार करीब-करीब ठप पड़ गया है.

भोपाल में श्री हिंदू उत्सव समिति ने फैसला किया है कि वह सोमवार को चल समारोह नहीं निकालेगी. ये चल समारोह न निकलने से भोपाल में होली पर पहली बार 100 साल की परंपरा टूट जाएगी. समिति के अध्यक्ष कैलाश बेगवानी ने कहा कि कोरोना को देखते हुए इस बार चल समारोह नहीं निकलने का निर्णय लिया गया है.

गमी में शामिल होने दे सरकार



बेगवानी ने बताया कि सोमवार को चल समारोह नहीं निकाला जाएगा, लेकिन सुबह 6.15 बजे होलिका दहन किया जाएगा. जिला प्रशासन से अत्यधिक सख्ती न करने और सोमवार को अनराव की होली पर जिन परिवारों में गमी की होली है, रंग गुलाल लगाने जाने वालों को न रोके जाने की अपील की है.
लॉकडाइन के बीच होली, व्यापार ठप

इधर इंदौर में रविवार को लॉकडाउन है और इसी दिन होलिका दहन भी होना है. इसे लेकर प्रशासन ने देर रात नई गाइडलाइन जारी की. इसके मुताबिक, गली-मोहल्ले में होने वाले होलिका दहन में 20-20 लोग शामिल हो सकेंगे. वहीं, सोमवार को धुलेंडी मनाई जाएगी. इस दिन लोग घरों में रहकर ही पर्व मनाएंगे. किसी को बाहर घूमने की इजाजत नहीं रहेगी. बाजारों में भी होली की ग्राहकी फीकी नजर आ रही है. व्यापारियों का कहना है कि कोरोना के कारण लोग बहुत कम संख्या में रंग-गुलाल और पिचकारी लेने पहुंचे. व्यापारियों के अनुसार हर साल की तुलना में इस बार व्यापार नाम मात्र का रहा.

देवास में पुलिस ने निकाला मार्च पास्ट

देवास में रात में कलेक्टर ने प्रतिबंधात्मक आदेश जारी कर दिए. इसके मुताबिक, अब शव यात्रा में 20 लोग और शादियों में 50 लोग ही सम्मिलित हो पाएंगे. जिम, स्विमिंग पूल बंद रहेंगे और रेस्टोरेंट में केवल पार्सल सुविधा उपलब्ध होगी. आगामी त्योहारों के मद्देनजर देवास एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह द्वारा पूरे शहर में फ्लैग मार्च निकाला गया. ऐसे में शहर के विभिन्न गलियों व मुख्य मार्गो में पुलिस ने पैदल मार्च निकाला. एसपी ने बस स्टैंड व अन्य मार्गों पर लोगों को मास्क पहनने की समझाइश दी, मास्क बाटें और फिर मिलने पर मास्क पहनने की बात कही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज