Holi 2021: होली पर भी चढ़ा 'कोरोना का रंग', घर में उड़ाएं गुलाल, हुड़दंग मचाया तो...

कोविड अनुकूल व्यवहार जैसे-जैसे भीड़ से बचना, मास्क पहनना, बार-बार हाथ धोना और आपस में दो गज की दूरी बनाए रखने की पालना भी करनी होगी.

कोविड अनुकूल व्यवहार जैसे-जैसे भीड़ से बचना, मास्क पहनना, बार-बार हाथ धोना और आपस में दो गज की दूरी बनाए रखने की पालना भी करनी होगी.

मध्‍य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Government) ने दो दिन पहले कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए होली के त्‍यौहार (Holi Festival 2021 ) को लेकर गाइडलाइन जारी की है. इसके मुताबिक, होली, रंगपंचमी पर न सामूहिक भागीदारी के कार्यक्रम होंगे और न जुलूस निकाला जा सकेगा.

  • Share this:
भोपाल. होली का त्यौहार आने वाला है और उससे पहले ही कोरोना वायरस ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है. एक तरफ होली का त्यौहार और दूसरी तरफ लगातार बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या से एक बात तय है कि मध्‍य प्रदेश में होली (Holi in madhya pradesh) का रंग इस बार फीका ही रहने वाला है. सरकार की गाइडलाइन से भी इसी बात के संकेत मिल रहे हैं. दो दिन पहले हुई मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) की कोरोना समीक्षा बैठक में इस बात को लेकर फैसला भी हो गया है कि होली पर सार्वजनिक कार्यक्रमों को अनुमति नहीं दी जाएगी.

कोरोना की नई गाइडलाइन के मुताबिक, होली, रंगपंचमी पर सामूहिक भागीदारी के कार्यक्रम नहीं होंगे. जुलूस आदि नहीं निकाले जा सकेंगेऔर खुले स्थान पर होने वाले बड़े कार्यक्रम भी नहीं होंगे. हालांकि व्यक्तिगत कार्यक्रमों को कहीं नहीं रोका जाएगा. होली के रंग खेलने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होंगे लोगों को अपने घरों में ही होली के रंग खेलनी पड़ेगा. यह तय किया गया है कि अगर कोई व्यक्ति कोरोना की गाइडलाइन का पालन करता हुआ नहीं पाया जाएगा तो फिर उसके खिलाफ चालानी कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि इस बार होली का त्‍यौहार 28 और 29 मार्च (Holi date 2021) को है.

लगातार बिगड़ रही स्थिति

कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर शिवराज सरकार को होली से ठीक पहले इस तरीके के प्रतिबंध लगाने पर मजबूर होना पड़ा है. आंकड़ों के नजरिए से देखें तो बीते 24 घंटे में इंदौर के 232, भोपाल के 196, जबलपुर के 72, ग्वालियर के 29 और खंडवा के 24 नये मामलों को मिलाकर प्रदेश में कोरोना के 832 केस सामने आये हैं. मध्‍य प्रदेश में कोरोना के 5616 एक्टिव केस हो गये हैं. जबकि पॉजिटिविटी रेट 4.8 फीसदी बना हुआ है.
भोपाल-इंदौर में कड़ाई

उधर कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राजधानी भोपाल और आर्थिक राजधानी इंदौर में सख्त फैसले लिए गए हैं. दोनों शहरों में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शाम को भी एक महत्वपूर्ण वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करने वाले हैं. इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सभी कलेक्टर, कमिश्नर सीएमएचओ और मेडिकल कॉलेजों के डीन को बुलाया गया है. यह माना जा रहा है कि इस दौरान सरकार कुछ और कड़े कदम उठा सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज