होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /गरबा पंडालों में प्रवेश को लेकर बोले MP के गृह मंत्री- किसी को अपनी पहचान छिपाने की जरूरत नहीं

गरबा पंडालों में प्रवेश को लेकर बोले MP के गृह मंत्री- किसी को अपनी पहचान छिपाने की जरूरत नहीं

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री व प्रदेश सरकार के प्रवक्ता नरोत्तम मिश्रा. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री व प्रदेश सरकार के प्रवक्ता नरोत्तम मिश्रा. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने कहा, ‘पंडालों के मुद्दे पर, विशेष रूप से गरबा आयोजकों से ...अधिक पढ़ें

भोपाल. मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने सोमवार को कहा कि किसी भी धर्म के लोग देवी दुर्गा की पूजा कर सकते हैं और पंडालों (Garba pandals) में प्रवेश करते समय किसी को अपनी पहचान छिपाने की जरूरत नहीं है. मध्य प्रदेश सरकार ने पिछले माह गरबा आयोजकों को नवरात्रि के दौरान पंडालों में प्रवेश की अनुमति देने के पहले लोगों के पहचान पत्र की जांच करने के लिए कहा था. नवरात्रि के आयोजन चार अक्टूबर को समाप्त हो रहा है.

मध्य प्रदेश की संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने सुझाव दिया था कि लव जिहाद की घटनाओं को रोकने के लिए नवरात्रि के दौरान गरबा स्थलों पर प्रवेश की अनुमति पहचान पत्रों की जांच के बाद ही दी जानी चाहिए.  गृहमंत्री गरबा स्थलों में प्रवेश करने वाले लोगों की पहचान पत्रों की जांच के बारे में तथा गरबा पंडालों के पास अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों की दुकानों को हटाने की सोशल मीडिया पर वीडियो आधारित रिपोर्ट से संबंधित सवालों के उत्तर दे रहे थे. मिश्रा प्रदेश सरकार के प्रवक्ता भी हैं.

पहले लोगों के पहचान पत्रों की जांच करें
मिश्रा ने कहा, ‘पंडालों के मुद्दे पर, विशेष रूप से गरबा आयोजकों से कहा गया था कि वे पंडालों के अंदर प्रवेश करने से पहले लोगों के पहचान पत्रों की जांच करें. मैंने उस समय भी लोगों से कहा था कि अगर वे मां (दुर्गा) की पूजा करना चाहते हैं तो किसी भी धर्म का व्यक्ति अलग से कर सकता है, लेकिन अगर वे यहां (गरबा पंडाल) में आना चाहते हैं तो उन्हें अपनी पहचान बतानी चाहिए, पहचान छिपाने की जरूरत नहीं है.’ नौ दिवसीय नवरात्रि उत्सव के दौरान पारंपरिक गरबा नृत्य कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं.

Tags: Madhya pradesh news, Narottam Mishra

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें