लाइव टीवी

हनी ट्रैप : श्वेता स्वप्निल मानव तस्करी के केस से बरी, बाकी पर चलेगा मुकदमा

Jitender Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 13, 2020, 1:46 PM IST
हनी ट्रैप : श्वेता स्वप्निल मानव तस्करी के केस से बरी, बाकी पर चलेगा मुकदमा
हनी ट्रैप-श्वेता स्वप्निल जैन मानव तस्करी के आरोप से बरी(प्रतीकात्मक फोटो)

भोपाल कोर्ट में जज भरत कुमार व्यास की कोर्ट में सुनवाई के बाद इन आरोपियों पर आरोप तय हुए हैं. एक आरोपी को मानव तस्करी (human trafficking ) मामले में राहत मिल गयी है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश  (madhya pradesh) के हाई प्रोफ़ाइल हनीट्रैप (Honeytrap) मामले में आरोपी श्वेता स्वप्निल जैन को मानव तस्करी (human trafficking ) मामले में कोर्ट ने बरी कर दिया है. वहीं अन्य आरोपी श्वेता विजय जैन,आरती दयाल और अभिषेक पर मानव तस्करी मामले में आरोप तय हुए हैं. भोपाल कोर्ट में जज भरत कुमार व्यास की कोर्ट में सुनवाई के बाद इन आरोपियों पर आरोप तय हुए हैं. एक आरोपी को मानव तस्करी (human trafficking ) मामले में राहत मिल गयी है.

श्वेता स्वप्निल दोषमुक्त
भोपाल जिला कोर्ट ने बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले में आरोपी श्‍वेता स्‍वप्निल जैन को दोषमुक्त कर दिया गया है. ने मानव तस्करी मामले में श्‍वेता स्‍वप्निल जैन को दोषमुक्त किया है. जिला कोर्ट ने इसी मामले में बाकी 3 अन्‍य आरोपितों के खिलाफ आरोप तय किया है. श्‍वेता विजय जैन, आरती दयाल और अभिषेक पर धारा 370, 370 ए और 120 बी के तहत आरोप तय किए गए हैं.

पीड़ित के पिता ने दर्ज करायी थी शिकायत

दरअसल हनीट्रैप मामले उजागर होने के बाद मोनिका यादव के पिता हीरालाल की शिकायत पर सीआईडी 4 लोगों पर मानव तस्करी का मामला दर्ज किया था. कोर्ट में करीब 3 घंटे सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोप तय किए.बहुचर्चित हनी ट्रैप केस में अनेक राजनेताओं के साथ नौकरशाहों के शामिल होने की बात आ रही थी. इस मामले में अनेक पहलुओं से जांच की जा रही है.

इस वजह से CID को सौंपा गया था केस
इस बहुचर्चित हनी ट्रैप कांड के साथ मानव तस्करी का चौंकाने वाला मामला भी उजागर हुआ था. तभी इस मामले की जांच पुलिस और एसआईटी के अलावा सीआईडी को भी सौंप दी गई थी. जांच के दौरान सीआईडी ने मानव तस्करी में भोपाल और छतरपुर में रहने वाली दो महिलाओं को आरोपी बनाया था. हनी ट्रैप में फंसी राजगढ़ की छात्रा के पिता की शिकायत पर इंदौर पुलिस ने जीरो पर दोनों महिला आरोपियों पर मानव तस्करी की एफ.आई.आर दर्ज कर केस डायरी भोपाल के अयोध्या नगर थाने भेजी थी. दोनों महिलाओं को सीआईडी ने रिमांड पर लिया था.ये भी पढ़ें-भोपाल स्टेशन हादसा : रेलवे ने दिया जांच का आदेश, GRP कराएगी FIR

सूटकेस में दो करोड़ रुपए लेकर जा रहे बिहार के यात्री खंडवा में गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 1:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर