बारिश के पानी में डूबा MP को राजस्थान से जोड़ने वाला पुल, टापू बने गांव में फंसे सैकड़ों लोग
Bhopal News in Hindi

बारिश के पानी में डूबा MP को राजस्थान से जोड़ने वाला पुल, टापू बने गांव में फंसे सैकड़ों लोग
लगातार हो रही बारिश के कारण श्योपुर से राजस्थान के कोटा तक आवागमन प्रभावित हो गया है. (सांकेतिक फोटो)

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के श्योपुर (Sheopur) में लगातार हो रही बारिश (Rain) ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. नदी का पुल डूब जाने से आवागमन पूरी तरह बंद हो गया है.

  • Share this:
श्योपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मालवा क्षेत्र में हुई झमाझम बारिश (Rain) की वजह से पार्वती नदी (Parvati River) उफान पर पहुंच गई है. नदी का जलस्तर इतना ज्यादा बढ़ गया है कि श्योपुर को राजस्थान (Rajasthan) के कोटा और खातौली सहित अन्य शहरों से जोड़ने के लिए पार्वती नदी के ऊपर बनाया गया पुल भी जमग्न हो गया है. जिससे राजस्थान के तमाम शहरों से श्योपुर का सम्पर्क टूट गया है. बताया जा रहा है कि रविवार को सुबह 5 बजे नदी में उफान आने के बाद से राजस्थान की ओर आने-जाने सभी वाहनो के पहिए नदियों के दोनों किनारों पर थम गए है. दोनों किनारों पर वाहनों की लंबी-लंबी कतारें और भी लंबी होती जा रही हैं.

पार्वती नदी का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है, जिससे फिलहाल कोटा रुट पर आवागमन शुरू हो पाना सम्भव नहीं है. इस उफान की वजह से सुंडी गांव भी टापू बन गया है. गांव के सैकड़ों लोग हर बार की तरह इस बार भी गांव में फंस गए हैं. फिलहाल ग्रामीणों को किसी तरह का जोखिम नहीं है लेकिन, नदी का जलस्तर और ज्यादा बढ़ता है तो प्रशासन को ग्रामीणों को रेस्क्यू करवाना पड़ सकता है. मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके के लिए बाढ़ राहत दल रवाना हो गया है.

ऊंचाई कम होने से डूबा पुल
गौरतलब है कि श्योपुर को राजस्थान के कोटा, खातौली सहित अन्य शहरों से जोड़ने के लिए नदी के ऊपर बने पुल की ऊंचाई कम होने की वजह से जरा सी बारिश होते ही यह पुल डूब जाता है, जिससे बारिश के दिनों में ज्यादातर दिनों इस रूट पर आवागमन बंद हो जाता है. इसे देखते हुए जिलेवासियों के द्वारा लम्बे समय से यहां ऊंचाई बाला बड़ा पुल बनाए जाने की मांग की जा रही है, लेकिन जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं. जिसके चलते लोग हर वार की तरह इस वार भी परेशान हो रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज