अपना शहर चुनें

States

मार्च में इन तारीख़ में हो सकता है इंदौर और भोपाल में IIFA अवॉर्ड समारोह....

BJP को आईफा समारोह पर ऐतराज
BJP को आईफा समारोह पर ऐतराज

10 जनवरी के आसपास IIFA समारोह का आयोजन करने वाली संस्था विजक्राफ्ट के पदाधिकारी सीएम कमलनाथ (CM kamalnath) से मुलाकात करेंगे. समारोह की पूरी रूपरेखा संस्था के पदाधिकारी सीएम को बताएंगे और दोनों के बीच विस्तार से चर्चा होगी.

  • Share this:
भोपाल. भारतीय सिनेमा जगत का प्रतिष्ठित IIFA अवॉर्ड समारोह इस साल इंदौर (Indore) में मार्च में हो सकता है. इसमें एक दिन का कार्यक्रम भोपाल (bhopal) में भी हो सकता है. सरकारी स्तर पर तमाम तैयारी शुरू कर दी गयी है. जल्द ही कार्यक्रम आयोजित करने वाली टीम सीएम कमलनाथ (cm kamalnath) से मुलाक़ात करने वाली है.

देश-विदेश में धूम मचा चुका इंडियन फिल्म इंडस्ट्री का प्रतिष्ठित IIFA अवॉर्ड समारोह इस बार मध्य प्रदेश में होगा. कमलनाथ सरकार इसका आयोजन इंदौर और भोपाल में कराने जा रही है. ये समारोह मार्च में हो सकता है. इसे लेकर सरकार के स्तर पर तमाम तैयारी पूरी कर ली गई हैं.समारोह का आयोजन करने वाली संस्था भी सीएम कमलनाथ से मुलाकात करने वाली है. इंदौर में होने वाले समारोह को लेकर चर्चा यह भी है कि इसमें एक दिन का कार्यक्रम भोपाल में भी हो सकता है.पहले भोपाल में IIFA करने का विचार बना था, लेकिन व्यवस्था नहीं होने की वजह से इंदौर को चुना गया.

MP की ब्रांडिंग
जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा के मुताबिक इंदौर में IIFA अवॉर्ड का भव्य समारोह मार्च में हो सकता है.सरकार की तरफ से पूरी तैयारी है.IIFA से मध्यप्रदेश की ब्रांडिंग होगी.लोग मध्यप्रदेश को जानेंगे.मध्यप्रदेश के कलाकारों को मौका और रोज़गार मिलेगा.उन्होंने कहा हमारा लक्ष्य शत-प्रतिशत युवाओं को रोज़गार देना है.IIFA अवार्ड समारोह का आयोजन यहां होना प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि है.
मार्च में ये हैं तारीख़


बताया जा रहा है कि इंटरनेशनल इंडियन फिल्म एकेडमी अवार्ड (आईएफा)-2020 इंदौर में 19, 20 और 21 मार्च को होगा.इसकी तैयारी शुरू हो गयी है. IIFA अवार्ड समारोह विजक्राफ्ट नाम की कंपनी आयोजित करेगी.उसने ये संभावित तारीख़ दी हैं.इंदौर में होने जा रहे IIFA अवार्ड को लेकर सीएम कमलनाथ पहले ऐलान कर चुके हैं.ऐसे में सरकार की कोशिश है कि इंदौर के साथ भोपाल में भी एक दिन का कार्यक्रम हो.समारोह तीन दिन का होगा. पहले इसे भोपाल में कराने की तैयारी थी. लेकिन करीब 4000 मेहमानों के लिए भोपाल में रुकने की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने की वजह से इंदौर को फायनल किया गया.अब कोशिश है कि तीन दिन के इस समारोह में दो दिन इंदौर और एक दिन का आयोजन भोपाल में हो.

सीएम से मिलेंगे संस्था के पदाधिकारी
10 जनवरी के आसपास इस समारोह का आयोजन करने वाली संस्था के पदाधिकारी सीएम कमलनाथ से मुलाकात करेंगे. समारोह की पूरी रूपरेखा संस्था के पदाधिकारी सीएम को बताएंगे और दोनों के बीच विस्तार से चर्चा होगी.

ये भी पढ़ें-जानिए मध्य प्रदेश की सियासी हस्तियां कहां मना रही हैं नया साल !

CM कमलनाथ को नेता प्रतिपक्ष की चुनौती-एक दिन भी नहीं चलने दूंगा आपकी सरकार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज