MP: बिगड़ी छवि को सुधारने के लिए 60 दिनों तक पुलिसकर्मी सीखेंगे अच्छे व्यवहार के तरीके

राजधानी भोपाल में दागी पुलिसकर्मी अपनी बिगड़ती छवि को सुधारने की कोशिश जुटे हैं, जिसके लिए वे रिफ्रेशमेंट कोर्स का सहारा ले रहे हैं.

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 11, 2019, 8:28 AM IST
MP: बिगड़ी छवि को सुधारने के लिए 60 दिनों तक पुलिसकर्मी सीखेंगे अच्छे व्यवहार के तरीके
MP: बिगड़ती छवि को सुधारने के लिए 60 दिनों तक पुलिसकर्मी सीखेंगे अच्छे व्यवहार के तरीके
Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 11, 2019, 8:28 AM IST
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में दागी पुलिसकर्मी अपनी बिगड़ती छवि को सुधारने की कोशिश जुटे हैं, जिसके लिए वे रिफ्रेशमेंट कोर्स का सहारा ले रहे हैं. इस कोर्स के लिए पहली किस्त में 94 दागी पुलिसकर्मियों को चिन्हित किया गया है, जिन्हें 60 दिनों तक अच्छे व्यवहार के तरीके सिखाए जाएंगे. जिनकी छवि कभी न कभी दागदार रही है, उन दागियों को अच्छे व्यवहार के साथ सेना के तर्ज पर ट्रेनिंग दी जा रही है.

रिफ्रेशमेंट कोर्स में पुलिसकर्मियों दी जाएगी इन चीजों की ट्रेनिंग

भोपाल की नेहरू नगर पुलिस लाइन में चल रहे रिफ्रेशमेंट कोर्स के दौरान अब इन पुलिसकर्मियों को नाइट पेट्रोलिंग, लान्ग मार्च, रूट मार्च, वैपन्स हैंडलिंग, क्षमता वृद्धि के साथ स्किल डेवलपमेंट, मेडिटेशन और योग कोर्स कराया जा रहा है. 60 दिन के इस कोर्स के पहले चरण के लिए भोपाल पुलिस के 94 पुलिसकर्मियों को चुना गया है.

एसपी पुलिस, mp police
रिफ्रेशमेंट कोर्स में दागी पुलिसकर्मियों को दी जा रही अच्छा व्यवहार करने की ट्रेनिंग


बता दें कि इसके लिए सभी थाना प्रभारियों और आरआई से ऐसे पुलिसकर्मियों की सूची मांगी गई थी. इस सूची में एसआई से लेकर सिपाही स्तर के पुलिसकर्मी शामिल हैं. दो माह की ट्रेनिंग के बाद तय होगा कि इन पुलिसकर्मियों को किसी अन्य थाने में पदस्थापना दी जाए या नहीं. मामले की जानकारी भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने दी.

पुलिसकर्मियों पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप

पुलिसकर्मियों-police
पुलिसकर्मियों पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप

Loading...

मालूम हो कि हाल ही में क्राइम ब्रांच और अन्य थानों के पुलिसकर्मियों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे थे. जनता से ठीक व्यवहार नहीं करने के मामले भी सामने आते रहे हैं. इसमें सबसे ज्यादा बैरागढ़ पुलिस कस्टडी में हुई सायबर सेल के एएसआई के बेटे की मौत को लेकर पुलिस की छवि खराब हुई थी. इन्हीं सब कारणों से अब दागी पुलिस को चुन-चुन कर सुधारने का काम किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें:- 8 साल की बच्ची से रेप & मर्डर केस में अदालत आज सुनाएगी सज़ा 

ये भी पढ़ें:- आदिवासी गर्ल्स होस्टल से गायब छात्रा को पुलिस ने ढूंढ निकाला
First published: July 11, 2019, 8:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...