EXCLUSIVE : बिल्डर पीयूष गुप्ता ने 15 हजार की जॉब करने वाले स्टाफ के नाम की अपनी करोड़ों की प्रॉपर्टी
Bhopal News in Hindi

EXCLUSIVE : बिल्डर पीयूष गुप्ता ने 15 हजार की जॉब करने वाले स्टाफ के नाम की अपनी करोड़ों की प्रॉपर्टी
पीयूष गुप्ता अपने नौकरों के नाम पर करोड़ों की संपत्ति की खरीद-फरोख्त करता था.

15 हजार की नौकरी करने वाले कर्मचारी के नाम बिल्डर पीयूष गुप्ता ने करोड़ों की संपत्ति की नाम. गोल्डन कंपनी (Golden Company) में नौकरों के नाम संपत्ति की खरीद-फरोख्त कर ब्लैक मनी को व्हाइट करने का होता था काम.

  • Share this:
भोपाल. राजधानी भोपाल में फेथ कंपनी के मालिक राघवेंद्र सिंह तोमर के साथ बिल्डर पीयूष गुप्ता के ठिकानों पर भी दूसरे दिन छापेमारी कार्रवाई जारी है. आयकर विभाग की टीम गुप्ता के नौकरों के घर पर भी जांच पड़ताल कर रही है. गुप्ता अपने नौकरों के नाम पर करोड़ों की संपत्ति की खरीद-फरोख्त करता था. गुप्ता ने भी फेथ कंपनी की तरह एक कंपनी बनाई थी. जिसमें ब्लैक मनी को व्हाइट करने का काम किया जाता था. गुप्ता के तार भी कई रसूखदारों से जुड़ रहे हैं.

न्यूज़ 18 की टीम बिल्डर पीयूष गुप्ता के राजदार विपिन जैन के चौकी स्थित घर पर पहुंची. न्यूज़ 18 के कैमरे पर विपिन जैन ने कई बड़े राज खोले. चौक बाजार में दूसरे दिन भी इनकम टैक्स के अफसर विपिन जैन से पूछताछ कर रही है.

नौकरों के नाम पर काली कमाई का खेल
पीयूष गुप्ता गोल्डन कंपनी का मालिक है. उसके भी कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं. उसने प्रॉपर्टी में करोड़ों का इन्वेस्टमेंट किया है. विपिन जैन 6 साल पीयूष गुप्ता की कंपनी में 15 हजार की नौकरी कर रहा था. गुप्ता ने विपिन जैन के नाम करोड़ों की संपत्ति की खरीद-फरोख्त की है. जांच में अभी तक करोड़ रुपये कीमत की तीन प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री विपिन जैन के नाम निकली है.
विपिन जैन ने बताया कि मालिक गुप्ता दस्तावेजों पर साइन कराने के बाद जमीन की रजिस्ट्री उनके नाम कराते थे. इस मामले से उसका कोई लेना-देना नहीं है. नौकरी करने के लिए वह कहीं भी साइन कर देता था. सूत्रों ने बताया कि पीयूष गुप्ता ने कई रसूखदारों की काली कमाई के करोड़ों का इन्वेस्टमेंट अपनी कंपनी में कराया था. गुप्ता करोड़ों की काली कमाई को अपने नौकरों के नाम पर प्रॉपर्टी में इन्वेस्टमेंट करता था.



चूड़ीवाला के नाम से फेमस
बिल्डर पीयूष गुप्ता चूड़ीवाला के नाम से फेमस है. उनका पहले चूड़ी का कारोबार था. लेकिन पिछले 6 साल से उसने प्रॉपर्टी का काम शुरू कर दिया था. इतने कम समय में किस गुप्ता ने करोड़ों की प्रॉपर्टी कमाई है. जांच पड़ताल में अभी तक करोड़ों की बेनामी संपत्ति का खुलासा भी हुआ है.

ब्लैक मनी को व्हाइट करने का काम
गुप्ता के कोहेफिजा स्थित एनआरआई कॉलोनी के बंगले पर भी इनकम टैक्स की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी है. अब तक की जांच पड़ताल में करोड़ों की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है. पीयूष गुप्ता 6 साल से गोल्डन कंपनी का संचालन कर रहे हैं.

गुप्ता पर ब्लैक मनी को व्हाइट करने का बड़ा आरोप लगा है. गुप्ता की कंपनी में कई बड़े रसूखदार और राजनेताओं ने करोड़ों का इन्वेस्टमेंट किया है. इनकम टैक्स तमाम दस्तावेजों को खंगालने का काम कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज