लाइव टीवी

हनी ट्रैप केस : इंजीनियर को ब्लैकमेल करने वाली युवती को भोपाल लेकर पहुंची इंदौर पुलिस, कर रही है ये जांच

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 23, 2019, 11:06 PM IST
हनी ट्रैप केस : इंजीनियर को ब्लैकमेल करने वाली युवती को भोपाल लेकर पहुंची इंदौर पुलिस, कर रही है ये जांच
हनी ट्रैप केस में इंदौर पुलिस ने लिया ये एक्‍शन.

हनी ट्रैप केस (Honey Trap Case) में इंदौर के नगर निगम इंजीनियर हरभजन सिंह (Engineer Harbhajan Singh) को ब्लैकमेल करने के मामले में आरोपी एक युवती को इंदौर पुलिस (Indore Police) भोपाल लेकर पहुंची. वह ना सिर्फ लड़की के कॉलेज बल्कि उस फ्लैट की भी जांच कर रही हैं जहां वह रहती थी.

  • Share this:
भोपाल. हनी ट्रैप केस (Honey Trap Case) में इंदौर के नगर निगम इंजीनियर हरभजन सिंह (Engineer Harbhajan Singh) को ब्लैकमेल किए जाने के मामले में आरोपी एक युवती को इंदौर पुलिस (Indore Police) सोमवार को भोपाल (Bhopal) लेकर पहुंची. पलासिया थाने के टीआई शशिकांत चौरसिया के नेतृत्व में भोपाल आई पुलिस टीम आरोपी युवती को उन ठिकानों पर लेकर गई जहां से उसे सबूत मिलने की उम्मीद थी. पुलिस के मुताबिक आरोपी युवती भोपाल में एक कॉलेज में रहकर पढ़ाई कर रही थी और एक फ्लैट में दूसरी आरोपी युवती के साथ रहती थी. पुलिस युवती को उसी फ्लैट में लेकर गई. इसके साथ ही पुलिस आरोपी को उस कॉलेज में भी ले गई जहां से वो पढ़ाई कर रही थी और फिर पुलिस ने युवती से जुड़े दस्तावेजों की पड़ताल की.

आपको बता दें कि हनी ट्रैप केस में इंजीनियर हरभजन सिंह को ब्लैकमेल किए जाने के केस में दो युवतियां आरोपी हैं. इन दोनों को रैकेट के सबूत इकट्ठा करने के लिए भोपाल लाया जाना था, लेकिन तबीयत खराब होने की वजह से दूसरी युवती को भोपाल नहीं लाया जा सका. सूत्रों की मानें तो पुलिस आरोपी युवती को पूछताछ के लिए राजगढ़ भी लेकर जा सकती है.

यह अंतरंग संबंधों का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने का मामला है.


दो युवतियां एक इंजीनियर

इंदौर पुलिस जिस सिलसिले में युवती को भोपाल लेकर पहुंची वो दरअसल इंदौर में निगम इंजीनियर हरभजन सिंह के ब्लैकमेलिंग केस से जुड़ा हुआ है. पुलिस जिस युवती को भोपाल लाई थी उसकी उम्र महज 18-19 साल है और ये वही युवती है जिसे दूसरी शातिर महिला ने नौकरी दिलवाने का झांसा देकर इंजीनियर के पास भेजा था. पुलिस को आशंका है कि हो सकता है दोनों युवतियों ने मिलकर कई और लोगों को ब्लैकमेल किया होगा. इसी वजह से वो आरोपी युवती को भोपाल लेकर पहुंची थी. आपको बता दें कि इस केस में फरियादी इंजीनियर हरभजन सिंह को गलत आचरण के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया है.

टीआई ने कही ये बात
शशिकांत चौरसिया (टीआई, थाना पलासिया) ने कहा कि पलासिया थाना इंदौर में एक केस दर्ज हुआ है और यह अंतरंग संबंधों का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने का मामला है. उसी सिलसिले में हमारी टीम भोपाल आई थी. इस केस में एक छात्रा गिरफ्तार हुई है. इसके बारे में कॉलेज से जानकारी ले ली गई है. जरुरत होगी तो उसके परिजनों से भी पूछताछ करेंगे. हम पड़ताल कर रहे हैं कि क्या छात्रा को रैकेट में शामिल होने के लिए मजबूर किया गया था.
Loading...

ये भी पढ़ें-

BJP के हल्‍ला बोल कार्यक्रम के दौरान टूटा मंच, पूर्व गृह मंत्री, MP और विधायक के नीचे गिरने से मची अफरातफरी

कमलनाथ सरकार ने बाढ़ पीड़ितों के लिए खोला पिटारा, 15 अक्‍टूबर तक सभी को मिलेगा मुआवजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2019, 10:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...