कांग्रेस की आर्थिक हालत खस्ता, पुराने प्रदेश मुख्यालय में खुलेगा कपड़े का शोरूम

मध्य प्रदेश में पिछले 13 साल से सत्ता से बेदखल हो चुकी कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. कांग्रेस की आर्थिक हालत इतनी खस्ता हो गई है कि पार्टी ने पुराने प्रदेश मुख्यालय को अब एक नामी कंपनी को किराए पर देने का फैसला किया है.

मध्य प्रदेश में पिछले 13 साल से सत्ता से बेदखल हो चुकी कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. कांग्रेस की आर्थिक हालत इतनी खस्ता हो गई है कि पार्टी ने पुराने प्रदेश मुख्यालय को अब एक नामी कंपनी को किराए पर देने का फैसला किया है.

मध्य प्रदेश में पिछले 13 साल से सत्ता से बेदखल हो चुकी कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. कांग्रेस की आर्थिक हालत इतनी खस्ता हो गई है कि पार्टी ने पुराने प्रदेश मुख्यालय को अब एक नामी कंपनी को किराए पर देने का फैसला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2017, 4:32 PM IST
  • Share this:
मध्य प्रदेश में पिछले 13 साल से सत्ता से बेदखल हो चुकी कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. कांग्रेस की आर्थिक हालत इतनी खस्ता हो गई है कि पार्टी ने पुराने प्रदेश मुख्यालय को अब एक नामी कंपनी को किराए पर देने का फैसला किया है.



आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, रायपुर की एक कंपनी से मध्य प्रदेश कांग्रेस ने एक करार किया है. इस करार के तहत राजधानी भोपाल  के रोशनपुरा चौराहे पर स्थित जवाहर भवन के दो फ्लोर में अब कपड़ों का शोरूम खोला जाएगा. इसके एवज में पार्टी को करीब एक लाख रुपए प्रति माह का किराया मिलेगा.



दरअसल, सत्ता से दूर रहने के बाद पार्टी के फंड जुटाना एक बड़ी चुनौती बना हुआ है. पार्टी के वर्तमान मुख्यालय की हालत भी किसी से छिपी नहीं है. यहां भी बरसों से रंगरोगन नहीं हुआ है.





पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने न्यूज18 से बातचीत में जवाहर भवन को किराए पर दिए जाने की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि कंपनी को जवाहर भवन के दो फ्लोर किराए पर दिए गए है.
जवाहर भवन का संचालन ट्रस्ट करता है, जिसके चेयरमैन मोतीलाल वोरा हैं. उनकी सहमित के बाद ही कांग्रेस ने इस ऐतिहासिक भवन को किराए पर देने का फैसला लिया है. इस ट्रस्ट में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश के प्रभारी महासचिव भी शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज