जयवर्धन सिंह बोले- मैं आज भी सचिन पायलट को कांग्रेस का नेता मानता हूं, सिंधिया की क्रेडिबिलिटी खत्म
Jaipur News in Hindi

जयवर्धन सिंह बोले- मैं आज भी सचिन पायलट को कांग्रेस का नेता मानता हूं, सिंधिया की क्रेडिबिलिटी खत्म
उन्होंने कहा कि सिंधिया जब से भाजपा में गए हैं उनकी क्रेडिबिलिटी खत्म हो गई है. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के बेटे जयवर्धन सिंह (Jayawardhan Singh) ने कहा सचिन पायलट ने पहले ही साफ कर दिया है कि वो BJP में नहीं जाएंगे. ऐसे में अशोक गहलोत के साथ उनका विवाद जल्द ही खत्म हो जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 20, 2020, 10:28 AM IST
  • Share this:
भोपाल. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के बेटे और पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह (Jayawardhan Singh) ने राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम पर सचिन पायलट (Sachin Pilot) को लेकर बड़ा बयान दिया है. जयवर्धन सिंह ने कहा है कि मैं आज भी सचिन पायलट को कांग्रेस (Congress) पार्टी का नेता मानता हूं. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि सचिन पायलट और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के बीच जल्द ही सारे विवाद खत्म हो जाएंगे. इसके बाद दोनों मिलकर साथ में काम करेंगे.

जयवर्धन सिंह ने कहा कि सचिन पायलट ने पहले ही साफ कर दिया है कि वो भारतीय जनता पार्टी (BJP) में नहीं जाएंगे. ऐसे में दोनों के बीच विवाद जल्द ही खत्म हो जाएगा. उन्होंने अपने पिता की तरह ही कहा कि सचिन पायलट को महज 32 साल की उम्र में कांग्रेस ने केंद्र में मंत्री बना दिया था. जयवर्धन ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस पार्टी में सबसे ज्यादा सम्मान मिला. लेकिन मुझे नहीं पता कि उनके मन में क्या बात थी कि वो बीजेपी में चले गए. उन्होंने कहा कि सिंधिया जब से भाजपा में गए हैं, उनकी क्रेडिबिलिटी खत्म हो गई है.

अदालत के साथ-साथ प्रियंका से भी बातचीत जारी



इस बीच खबर ये भी है कि  इस बीच सचिन पायलट ने हाईकोर्ट जाने के साथ ही कांग्रेस (Congress) के टॉप लीडरशिप से संपर्क बनाए रखा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पायलट ने अयोग्यता नोटिस को हाईकोर्ट में चुनौती जरूर दी है, मगर इसके साथ ही पार्टी में अपनी मांगे पूरी करवाने को लेकर प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) से लगातार संपर्क में बने हुए हैं.
मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सचिन पायलट बीते तीन-चार दिनों से हर रोज AICC महासचिव प्रियंका गांधी से फोन पर बात कर रहे हैं. हालांकि, दोनों के बीच क्या बातचीत हुई, इसका पता नहीं चल पाया है. राजस्थान मामले में ये अहम डेवलपमेंट ऐसे वक्त में आया है, जब अशोक गहलोत सरकार पायलट की अगुवाई में असंतुष्ट विधायकों के खिलाफ एक्शन के लिए प्लान बी तैयार करने में जुटी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज