आज शायद ही मिल सके आपको इलाज, कोरोना सेवा भी रोक सकते हैं जूनियर डॉक्टर्स!

मांगों को लेकर प्रदेश के जूनियर डॉक्टर्स हड़ताल पर चले गए हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

MP Doctor's Strike News: मध्य प्रदेश में जूनियर डॉक्टर्स आज हड़ताल पर जाएंगे. डॉक्टर्स ने प्रदेश सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है. जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन ने कहा कि सरकार को हमारी मांगें मान लेनी चाहिए.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाएं गुरुवार को चरमरा सकती हैं. जूनियर डॉक्टर आज हड़ताल पर जाएंगे और इमरजेंसी सेवाएं बंद रखेंगे. जूनियर डॉक्सटर्स एसोसिएशन (जूडा) ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है. उन्हें न उचित वेतन दिया जा रहा है और न ही सुरक्षा और इलाज की व्यवस्थाएं मुहैया कराई जा रही हैं.

जूडा, अध्यक्ष डॉ हरीश पाठक का कहना है कि जूनियर डॉक्टर्स कभी भी हड़ताल करने के पक्ष में नहीं थे. हमा पिछले 6 महीने से लगातार सरकार और प्रशासनिक अधिकारियों से संपर्क कर रहे हैऔर अपनी मांगों से उन्हें अवगत करवाया है. हमने डीन से लेकर मुख्यमंत्री तक को मांगों से अवगत कराया है परंतु हमारे इस शांतिपूर्ण वार्तालाप को सरकार हमारी कमजोरी मान कर अनदेखा किया जाता रहा है. इसलिए विवश होकर हमें यह कदम उठाना पड़ रहा है. अगर सरकार हमारी मांगों पर विचार करके आदेश पारित करती है. तो जूनियर डॉक्टर विश्वास दिलाते हैं कि आदेश पारित होने के बाद अपने काम पर चले जाएंगे.

समानांतर ओपीडी चलाकर रखा मरीजों का ध्यान, रोक देंगे कोरोना सेवा

पाठक ने कहा कि हमने 8 अप्रैल से लेकर 12 अप्रैल तक समानांतर ओपीडी चलाकर मरीजों के हित को ध्यान में रखा. 12 अप्रैल को मंत्री विश्वास सारंग के आश्वासन पर ही हमने अपनी हड़ताल को रद्द कर दिया, परंतु आज एक महीने बाद भी सरकार ने हमारी कोई मांग नहीं सुनी . इसी वजह से हम यह कदम उठा रहे हैं. इसके लिए प्रशासन ही पूर्ण रूप से जिम्मेदार है. आज हम हड़ताल पर जाएंगे. अगर 7 मई सुबह 8 बजे तक हमारी मांगे नहीं मानी जाती हैं तो उसी वक्त से कोरोना सेवा का भी बहिष्कार किया जाएगा.