ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले, ऐसे नेता को अध्यक्ष बनाया जाए जो कांग्रेस में नई ऊर्जा का संचार कर सके

पूर्व सांसद सिंधिया ने कहा कि, कांग्रेस को खुद को फिर से मजबूत और पुनर्जीवित करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद राहुल गांधी 133 साल पुरानी पार्टी में अपनी भूमिका खुद तय करेंगे.

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 12, 2019, 3:45 PM IST
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 12, 2019, 3:45 PM IST
कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार को कहा कि एक नए कांग्रेस प्रमुख का निर्णय जल्द से जल्द लिया जाना चाहिए और एक ऐसे नेता को मौका दिया जाना चाहिए जो पार्टी में एक नई ऊर्जा का संचार कर सके. पूर्व सांसद ने कहा कि, कांग्रेस को खुद को फिर से मजबूत और पुनर्जीवित करने की जरूरत है. सिंधिया ने कहा कि उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद राहुल गांधी 133 साल पुरानी पार्टी में अपनी भूमिका खुद तय करेंगे.

सिंधिया ने यहां एक सवाल के जवाब में संवाददाताओं से कहा कि, "हमने कभी नहीं सोचा था कि राहुल गांधी राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ देंगे, जिन्होंने न केवल कांग्रेस का बल्कि देश के लोगों का भी नेतृत्व किया. कांग्रेस के लिए यह गंभीर समय है. पार्टी को आगे बढ़ाने के लिए गांधी को मनाने के प्रयास विफल हो गए थे. "हमारा प्रयास राहुल को अध्यक्ष पद पर बने रहने के लिए मनाने का था, लेकिन राहुल जो भी फैसला लेते हैं, उस पर कायम रहते हैं और मुझे इस पर गर्व है.



 नए कांग्रेस अध्यक्ष का चयन करने के लिए बहुत समय बीत चुका है
पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, “हमें एक नए पार्टी अध्यक्ष की तलाश करनी है. मध्य प्रदेश में अपनी पारंपरिक सीट गुना से 2019 का लोकसभा चुनाव हार चुके सिंधिया ने कहा कि नए कांग्रेस अध्यक्ष का चयन करने के लिए बहुत समय बीत चुका है. हम इसके लिए और अधिक समय बीतने की अनुमति नहीं दे सकते.”

राहुल के फैसले का सम्मान करना चाहिए
AICC अध्यक्ष की दौड़ में शामिल होने के सवाल के बारे में पूछे जाने पर, सिंधिया ने कहा, पार्टी अध्यक्ष के बारे में सामूहिक निर्णय होगा, कांग्रेस कार्यसमिति यह निर्णय लेगी. हम सभी को मिलकर निर्णय लेना है. राहुल गांधी की भविष्य की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर, सिंधिया ने कहा, राहुल गांधी अपनी भूमिका खुद तय करेंगे. कांग्रेस पार्टी उन्हें पार्टी अध्यक्ष के रूप में देखना चाहती थी, लेकिन उनके फैसले का भी सम्मान करना चाहिए.

महासचिव पद से हाल ही में दिया था इस्तीफा
Loading...

देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी के आगे बढ़ने के सवाल पर सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस को खुद को फिर से मजबूत और पुनर्जीवित करने की जरूरत है. सिंधिया ने उत्तर प्रदेश में पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए हाल ही में पार्टी के महासचिव पद से इस्तीफा दे दिया था.

...और कांग्रेस के लिए यह समय आ गया है
सिंधिया ने कहा कि, "एक समय आता है जब हर संगठन को खुद को मजबूत और सुदृढ़ करने की आवश्यकता होती है और कांग्रेस के लिए यह समय आ गया है. हमें देश के लोगों का विश्वास, प्यार और आशीर्वाद जीतना चाहिए." विधान सभा परिसर में पत्रकारों से बात करने से पहले सिंधिया ने गैलरी से मध्य प्रदेश विधानसभा के मॉनसून सत्र की कार्यवाही भी देखी.

ये भी पढ़ें - 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...