Home /News /madhya-pradesh /

kamal nath and congress leaders mock law as minor seen selling popcorn in kavi sammelan check details mpns

एमपी: इधर कमलनाथ-कांग्रेस के दिग्गज सुनते रहे कविताएं, उधर पॉपकॉर्न बेचता रहा नाबालिग

MP News: भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्गज नेताओं के बीच नाबालिग पॉपकॉर्न बेचता रहा. इस दौरान किसी को श्रम कानून का ध्यान नहीं रहा.

MP News: भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्गज नेताओं के बीच नाबालिग पॉपकॉर्न बेचता रहा. इस दौरान किसी को श्रम कानून का ध्यान नहीं रहा.

Bhopal Top Story: मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कांग्रेस के दिग्गज नेताओं की मौजूदगी में कानून की धज्जियां उड़ती दिखाई दीं. दरअसल, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता कवि सम्मेलन में शिरकत करने पहुंचे. इन सभी के बीच एक नाबालिग पॉपकॉर्न बेचता दिखाई दिया. नेताओं और पुलिस में से किसी को भी उस वक्त श्रम कानून का ध्यान नहीं रहा. सभी नेताओं ने कविताओं का आनंद लिया और चुपचाप घर चले गए.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के बीच कानून की धज्जियां उड़ती रही और नेता कवि सम्मेलन में कविताएं सुनते रहे. इन सभी दिग्गज नेताओं के बीच एक नाबालिक लड़का पॉपकॉर्न बेचता रहा और किसी ने उस पर आपत्ति भी नहीं ली. ये कवि सम्मेलन मप्र साहित्य एवं संस्कृति समिति ने रविन्द्र भवन के खुले परिसर में आयोजित किया था.

इस कवि सम्मेलन के मंच पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी, कांतिलाल भूरिया, अरुण यादव, एनपी प्रजापति, विजयलक्ष्मी साधो, पीसी शर्मा सहित कई दिग्गज नेता मौजूद थे. कार्यक्रम में सभी ने स्वर्गीय राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर उनकी तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की. इस बीच इन सभी नेताओं की मौजूदगी में एक नाबालिग लड़का मंच के ठीक सामने थैले में पॉपकॉर्न के पैकेट लेकर बेचता रहा. उनके अलावा मंच के नीचे कांग्रेस के तमाम नेता, प्रवक्ता, कार्यकर्ता, पदाधिकारी और संगठन से जुड़े नेता भी बैठे हुए थे. जब कमलनाथ का संबोधन खत्म हुआ, तब सभी नेता नीचे उतरे और पहली पंक्ति में बैठ गए. लेकिन, किसी ने उस नाबालिग पर ध्यान नहीं दिया.

कमलनाथ ने बीजेपी पर साधा निशाना

विराट कवि सम्मेलन में कमलनाथ ने अपने संबोधन में बिना नाम लिए बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने स्वर्गीय राजीव गांधी को याद करते हुए कहा- राजीव ने 21वीं सदी को दिशा दी. उन्होंने अपना बलिदान दिया. उन्होंने संस्कृति को मजबूत किया. हमारी दिल, रिश्ते जोड़ने की संस्कृति है. आज राज्यों में विवाद हो रहे हैं. खालिस्तान का नाम सुनाई देने लगा. ये एक प्रकार का खतरा है. हमारे देश के भविष्य पर खतरा है. हमें मुकाबला करना पड़ेगा.

रूस-सोवियत संघ का दिया उदाहरण

रूस-सोवियत संघ की संस्कृति बिखर गई. वहां हमारे देश की संस्कृति नहीं थी. हमारे देश की संस्कृति को बचाना है. चुनाव आते-जाते रहते हैं. बता दें, इस विराट कवि सम्मेलन में पुलिस की ड्यूटी भी लगी थी. ट्रैफिक पुलिस और स्थानीय पुलिस दोनों मौजूद थे. लेकिन, उनके सामने भी बाल श्रम कानून की धज्जियां उड़ती रहीं.

Tags: Bhopal news, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर