कमलनाथ ने मध्य प्रदेश उपचुनाव में हार स्वीकार कर कहा - हम जनादेश को शिरोधार्य करते हैं

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी के खाते में 21 सीटें आईं जबकि कांग्रेस के हिस्से 7 सीटें. (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)
मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी के खाते में 21 सीटें आईं जबकि कांग्रेस के हिस्से 7 सीटें. (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

कमलनाथ ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा कि हम जनादेश को शिरोधार्य करते हैं. हमने जनता तक अपनी बात पहुंचाने का पूरा प्रयास किया. मैं उपचुनाव वाले क्षेत्रों के सभी मतदाताओं का भी आभार मानता हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 7:48 PM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former CM Kamal Nath) ने 28 सीटों पर हुए उपचुनाव (by-election) में अपनी हार स्वीकार कर ली है. उन्होंने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा कि हम जनादेश को शिरोधार्य करते हैं. हमने जनता तक अपनी बात पहुंचाने का पूरा प्रयास किया. मैं उपचुनाव वाले क्षेत्रों के सभी मतदाताओं का भी आभार मानता हूं.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा की 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी को 21 सीटों पर बहुमत मिला जबकि कांग्रेस के हिस्से 7 सीटें आईं. इन 21 सीटों के साथ ही 230 सीटों वाले मध्य प्रदेश विधानसभा में बीजेपी के पास 128, कांग्रेस के पास 94, बीएसपी के पास 2 और अन्य के खाते में 6 सीटें रह गई हैं.


मध्य प्रदेश में पार्टी की हार स्वीकार करते हुए कमलनाथ ने ट्विटर हैंडल पर लिखा 'हम जनादेश को शिरोधार्य करते हैं। हमने जनता तक अपनी बात पहुंचाने का पुरा प्रयास किया। मै उपचुनाव वाले क्षेत्रों के सभी मतदाताओं का भी आभार मानता हूँ। उम्मीद करता हूँ कि भाजपा की सरकार किसानों के हितों का ध्यान रखेगी, युवाओं को रोजगार देगी, महिलाओं का सम्मान व सुरक्षा कायम रखेगी, हम जनादेश को स्वीकार कर विपक्ष का दायित्व निभाएंगे , प्रदेश हित और जनता के हित के लिए सदैव खड़े रहेंगे , संघर्षरत रहेंगे। इन परिणामो की हम समीक्षा करेंगे।



दोपहर 12 बजे कमलनाथ घर चले गए

नतीजे आने से पहले कमलनाथ ने कहा था - जनतंत्र का फैसला स्वीकार किया जाएगा. नतीजों पर नजर रखने के लिए कमलनाथ सुबह से प्रदेश कांग्रेस दफ्तर पहुंच गए थे. लेकिन नतीजे फेवर में न आते देख वो दोपहर 12:00 बजे वहां से अपने घर के लिए रवाना हो गए. प्रदेश कांग्रेस दफ्तर में न्यूज़ 18 से खास बातचीत में कमलनाथ ने कहा कि लोकतंत्र का फैसला माना जाएगा.

दिग्विजय सिंह ने ईवीएम पर सवाल उठाए

उपचुनाव के नतीजों पर दिग्विजय सिंह ने कहा- जनता कांग्रेस पार्टी के साथ है. लेकिन कांग्रेस की आशंकाएं इन नतीजों के साथ ही सच साबित हो गई हैं. दिग्विजय सिंह ने ईवीएम पर फिर सवाल उठाते हुए कहा - कोई भी विकसित देश ईवीएम पर भरोसा नहीं करता. मशीन में लगी चिप टैंपर प्रूफ नहीं होती है. उन्होंने कहा मांधाता, नेपानगर और हाटपिपलिया सीट पर हजारों वोटों से हुई हार कई तरह के सवाल खड़े कर रही है. दिग्विजय सिंह ने कहा - कल कांग्रेस विधायक दल की बैठक में पार्टी की हार के कारणों पर मंथन किया जाएगा. उपचुनाव के नतीजों पर पार्टी विधायक दल की बैठक में समीक्षा की जाएगी. दिग्विजय सिंह ने कहा कि इन चुनावों में जनता को खरीदने की कोशिश की गई, लेकिन जनता बिकी नहीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज