लाइव टीवी

MP: शिक्षा व्यवस्था को बदलने की तैयारी में कमलनाथ सरकार, कहा- समय के साथ चलना ज़रूरी

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 30, 2019, 2:51 PM IST
MP: शिक्षा व्यवस्था को बदलने की तैयारी में कमलनाथ सरकार, कहा- समय के साथ चलना ज़रूरी
सीएम कमलनाथ ने कहा कि शिक्षा व्यवस्था में बदलाव की ज़रूरत

कमलनाथ सरकार (Kamalnath) प्रदेश में स्टीम शिक्षा पद्धति (Steam education system) लागू करने की तैयारी में है. इस प्रणाली को अमेरिका, रूस, फिनलैंड, ब्रिटेन, साउथ कोरिया जैसे देशों ने अपनाया है. भोपाल (Bhopal) में आयोजित स्टीम कॉनक्लेव (Steam conclave) में सीएम कमलनाथ ने प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था में बदलाव की ज़रूरत बताई है.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश के शिक्षा (Eduation) के हालात पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने चिंता जाहिर की है. सीएम ने शिक्षा के क्षेत्र को सबसे कमजोर बताया है. सीएम ने शिक्षकों (Teachers) की दक्षता पर भी चिंता जताई है. सीएम ने कहा है कि देश का भविष्य तैयार करने वाले शिक्षकों की सोच में आज समय के मुताबिक बदलाव की जरुरत है. मुख्यमंत्री ने शिक्षा की स्थिति में परिवर्तन के लिए सोच और व्यवस्था में बदलाव लाने की जरुरत बताई है. सीएम ने ये बात भोपाल में साइंस (Science), टेक्नालाजी, इंजीनियरिंग (Engineering), आर्टस और मैथ्स पर आधारित स्टीम एजुकेशन से जुड़े कॉनक्लेव की शुरुआत के मौके पर कही.

प्राथमिकता में स्वास्थ्य से पहले शिक्षा
सीएम कमलनाथ ने कहा कि शिक्षा के साथ ही छात्रों में ज्ञान को विकसित करने की जरुरत है. सीएम ने शिक्षकों से कहा कि उन्हें अपने काम को सरकारी नौकरी के रूप में नहीं बल्कि समाज सेवा के तौर पर लेना चाहिए. मुख्यमंत्री ने शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति की जरुरत बताई है. सीएम कमलनाथ ने कहा है कि सरकार की प्राथमिकता में स्वास्थ्य से पहले शिक्षा है. अब से तीस साल पहले शिक्षा व्यवस्था में आए शिक्षकों को आज के दौर के मुताबिक अपनी सोच और बर्ताव में बदलाव लाने की जरुरत है. उन्होंने कहा कि एक समय में राजीव गांधी के कंप्यूटर ज्ञान और फिर आईटी सेक्टर को लेकर लोग सवाल खड़े करते थे, लेकिन आज देश के आईआईटियन की दुनिया भर में डिमांड है.

News - स्टीम शिक्षा पद्धति को अमेरिका, रशिया, फिनलैंड, ब्रिटेन और साउथ कोरिया जैसे देशों ने अपनाया है, steam education system
स्टीम शिक्षा पद्धति को अमेरिका, रशिया, फिनलैंड, ब्रिटेन और साउथ कोरिया जैसे देशों ने अपनाया है


प्रदेश में लागू होगी स्टीम शिक्षा पद्धति
राजधानी भोपाल में आयोजित दो दिन के स्टीम कॉनक्लेव में देश और दुनिया के 400 से ज्यादा एक्सपर्ट अपने विचार रखेंगे. दरअसल स्टीम शिक्षा पद्धति को अमेरिका, रशिया, फिनलैंड, ब्रिटेन और साउथ कोरिया जैसे देशों ने अपनाया है और अब एमपी सरकार इस व्यवस्था को पाठ्यक्रम में लागू करने की कोशिश में है. हालांकि बदहाल शिक्षा व्यवसथा से जुझ रहे प्रदेश में हाईटेक व्यवस्था को किस तरह से अमल में लाया जाएगा, ये शिक्षा विभाग के लिए भी किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है. लेकिन विभाग का दावा है कि स्टीम व्यवस्था को स्कूली शिक्षा व्यवस्था में लागू करने का प्रयास होगा.

शिक्षा व्यवस्था में बदलाव की कोशिश
Loading...

स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि सीएम कमलनाथ की शिक्षा की बदहाली को लेकर चिंता लाजमी है. नई सरकार शिक्षा व्यवस्था में बदलाव की कोशिश कर रही है और शिक्षकों को ट्रेनिंग कार्यक्रम के जरिए दक्षता बढ़ाने की कोशिश की जा रही है. जो शिक्षक अपने आपको अपडेट नही कर पा रहे हैं, उन्हें बाहर करने का काम किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें -
दोस्त के घर की शराब पार्टी, फिर उसी की पत्नी का किया रेप, विरोध किया तो पति की कर दी हत्या
एमपी अजब है.. जिला प्रशासन के अधिकारियों ने की सर्पदंश पीड़ितों की झाड़-फूंक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 2:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...