लाइव टीवी

कमलनाथ सरकार का बड़ा फैसला, किसानों की मदद के लिए जारी किए 1800 करोड़

Anurag Shrivastav | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 3, 2019, 8:19 PM IST
कमलनाथ सरकार का बड़ा फैसला, किसानों की मदद के लिए जारी किए 1800 करोड़
कमलनाथ सरकार ने किसानों की मदद के लिए उठाया कदम.

कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बाढ़ (Floods) और बारिश से प्रभावितों किसानों (Farmers) की मदद के लिए 1800 करोड़ रुपए की राशि जारी कर दी है. इसमें केंद्र सरकार (Central Government) से मिली एक हजार करोड़ की राशि भी शामिल है.

  • Share this:
भोपाल. मध्‍य प्रदेश में बाढ़ (Floods) और बारिश से प्रभावितों किसानों (Farmers) को अब मुआवजा मिलना शुरू होगा. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने केंद्र से एक हजार करोड़ की राशि मिलने के बाट राज्य के बजट से 800 करोड़ मिलाकर 1800 करोड़ रुपए मुआवजे में देने की तैयारी कर ली है. इसके लिए राज्य सरकार ने कलेक्टरों को राशि जारी कर दी है. आपको बता दें कि एक दिन पहले केंद्र सरकार (Central Government) से मिली एक हजार करोड़ की मदद का हिसाब नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव (Gopal Bhargava) के द्वारा मांगे जाने के बाद कमलनाथ सरकार ने आज राहत राशि देने के लिए जारी हुए बजट की जानकारी सार्वजनिक की है.

कांग्रेस ने कही ये बात
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष अभय दुबे ने सरकार के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा है कि केंद्र से मिले एक हजार करोड़ और प्रदेश के बजट से जारी आठ सौ करोड़ समेत पूर्व में जारी छह सौ करोड़ की राशि मिलाकर किसानों को बर्बाद फसलों के लिए कुल 2400 करोड़ की राशि मुआवजे में दी जाएगी.

इन जिलों के किसानों को मिलेगा मुआवजा

जारी आंकड़ों के तहत बाढ़ और बारिश से प्रभावित भिंड, झाबुआ, श्योपुर, उमरिया, अलीराजपुर, दतिया, मुरैना, बालाघाट, बड़वानी, मंडला, सिवनी, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा और कटनी के लिए राशि जारी की गई है. जबकि जिन जिलों में तत्काल मुआवजे का वितरण होगा, उसमें खरगोन, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, बैतूल, भोपाल, हरदा, सीहोर, छतरपुर, देवास, टीकमगढ़, उज्जैन, गुना, रायसेन, अशोकनगर, रतलाम, दमोह, होशंगाबाद, पन्ना, खंडवा, निवाड़ी, सागर, धार और नरसिंहपुर जिला शामिल हैं. वहीं सरकार का दावा है कि आगर मालवा, मंदसौर और नीमच को पहले ही तत्काल सहायता वितरित की गई थी और अब फिर से इन्हें राहत राशि देने वाले जिलों में शामिल किया गया है.

केंद्र सरकार से कमलनाथ ने मांगी थी इतनी मदद
दरअसल, मध्‍य प्रदेश में जून से सितम्बर के बीच बाढ़ और बारिश से करीब 12 जिले बुरी तरह से प्रभावित हुए थे. जबकि राज्य सरकार ने केंद्र से तत्काल 6 हजार 621.28 करोड़ रुपए की राहत राशि देने की मांग की थी, जिसके एवज में केंद्र ने एक हजार करोड़ की राशि जारी की है. हालांकि अब प्रदेश सरकार ने बाढ़ और बारिश से प्रभावित इलाकों में राहत राशि देने की तैयारी कर ली है. इसके अलावा राज्य सरकार ने जिलों को निर्देश दिए हैं कि आरबीसी के तहत हुए नुकसान का भी मुआवजा तत्काल दिया जाए.
mp, madhya pradesh, kamalnath
अब तक मुआवजे की राशि कुल 2400 करोड़ हो चुकी है.


केंद्र सरकार पर साधा निशाना
कांग्रेस ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष अभय दुबे ने कहा है कि बीजेपी प्रदेश के किसानों के खिलाफ प्रतिशोध की भावना से प्रेरित राजनीति कर रही है. कांग्रेस सरकार के सत्ता में आने के बाद एक तरफ तो आपदा के तहत मांगी गई पूरी राशि नहीं दी बल्कि किसानों को परेशान करने के लिए राज्य के कोटे का यूरिया भी रोक लिया.
बहरहाल, लंबे समय से राहत राशि का इंतजार कर रहे किसानों को अब उनकी बर्बाद फसलों का मुआवजा मिल सकेगा.

ये भी पढ़ें -
सिंहस्थ घोटाले में BJP सांसद जी एस डामोर पर शिंकजा, EOW ने शुरू की जांच
दुनिया की सबसे भीषण त्रासदी, जिसने 23 हजार लोगों को मौत के घाट उतारा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 8:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर