MP: प्रेमी जोड़ों की रखवाली करेगी कमलनाथ सरकार! पुलिस ने तैयार किया प्‍लान

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 20, 2019, 2:19 PM IST
MP: प्रेमी जोड़ों की रखवाली करेगी कमलनाथ सरकार! पुलिस ने तैयार किया प्‍लान
मध्‍य प्रदेश पुलिस ने प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए सेफ हाउस बनाने का प्रस्‍ताव दिया है. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

पुलिस थानों में ही सेफ हाउस बनाने का प्लान है. मध्‍य प्रदेश पुलिस ने इस बाबत गृह राज्‍य विभाग को प्रस्‍ताव भेजा है. इसके पास होने पर चार मंजिला इमारत का निर्माण किया जाएगा.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था को संभालने से ज्यादा पुलिस को प्रेमी जोड़ों की सुरक्षा की फिक्र है. यही वजह है कि प्रदेश सरकार अब ऐसे जोड़ों को सुरक्षित स्थान मुहैया कराने जा रही है. पुलिस मुख्यालय ने ऐसे जोड़ों के लिए सेफ हाउस बनाने का प्रस्ताव तैयार करके गृह विभाग को भेज दिया है. अब इस पर प्रदेश सरकार को इस पर फैसला लेना है.

कमलनाथ सरकार ने पुलिस मुख्यालय के प्रस्ताव को मान लिया, तो जल्द ही प्रदेश के सभी जिलों में प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा देने के लिए सेफ हाउस बनाने का काम शुरू हो जाएगा. इस प्रस्ताव में पुलिस थानों में ही सेफ हाउस बनाने का प्लान है. इसके लिए अलग से चार मंजिला इमारत बनाई जाएगी, जिसे सेफ हाउस के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा. बिल्डिंग का ग्राउंड फ्लोर पुलिस अपने कामकाज के लिए उपयोग करेगी. एक फ्लोर पर महिला अपराध के मामलों को निपटाने के लिए दफ़्तर होगा.

ऐसा होगा सेफ हाउस

-शहर के किसी एक थाने को चिह्नित कर उसमें सेफ हाउस के लिए 4 मंजिला इमारत बनाई जाएगी.

-बिल्डिंग में प्रेमी जोड़ों को सुरक्षित रखने और उनसे जुड़े मामलों को निपटाने के लिए पुलिस काम करेगी.

-बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर महिला अपराधों के निराकरण के लिए 24 घंटे पुलिस की डेस्क काम करेगी.

-ग्राउंड फ्लोर पर पुलिस के ज़रूरी कामकाज के लिए स्टाफ के बैठने की व्‍यवस्‍था होगी.
Loading...

-थाना पुलिस भी इस बिल्डिंग का इस्तेमाल अपने अन्‍य कामकाज के लिए कर सकती है.

फिलहाल सेफ हाउस का यह प्रस्ताव फिलहाल गृह राज्‍य विभाग के पास अटका है. पुलिस मुख्यालय के साथ प्रेमी जोड़ों को भी इसके पास होने का इंतज़ार है.

ये भी पढ़ें- 

भांजे रतुल पुरी की गिरफ़्तारी पर CM कमलनाथ ने कही ये बात...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 1:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...