लाइव टीवी
Elec-widget

सरकारी बंगलों पर सरकार की टेढ़ी नजर, CM ने 2 मंत्रियों को सौंपी जांच की जिम्‍मेदारी

Puja Mathur | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 15, 2019, 4:10 PM IST
सरकारी बंगलों पर सरकार की टेढ़ी नजर, CM ने 2 मंत्रियों को सौंपी जांच की जिम्‍मेदारी
सीएम कमलनाथ ने 2 कैबिनेट मंत्रियों की कमेटी बनाई है.

भाजपा (BJP) के कार्यकाल में नेताओं को आवंटित हुए सरकारी बंगलों पर अब कांग्रेस सरकार ने सख्त रूख अपना लिया है. मुख्‍यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) ने मंत्री गोविंद सिंह और गृह मंत्री बाला बच्चन (Home Minister Bala Bachchan) को माइक्रो जांच की जिम्मेदारी सौंपी है.

  • Share this:
भोपाल. भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के कार्यकाल में नेताओं को आवंटित हुए सरकारी बंगलों पर अब कांग्रेस सरकार ने सख्त रूख अपना लिया है. इस मामले पर मुख्‍यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) ने अलग से दो मंत्रियों को माइक्रो जांच करने की जिम्मेदारी सौंपी है. साफ है कि सरकार अब फर्जी तरीके से आवंटित घरों की जांच करने के लिए घरों का सत्यापन (Verification) कराएगी. सरकार का मानना है दो महीनों के अंदर रिपोर्ट पूरी हो जाएगी, जिससे ये पता चल जाएगा कि कौन फर्जी तरीके से बंगलों का सुख भोग रहा है. इसके बाद दोषी पर उचित कार्रवाई की जाएगी. जबकि इसके साथ ही शिवराज सरकार (Shivraj government) की बंदरबांट का सिलसिला भी पूरी तरह खत्म हो जाएगा.

कमेटी ये मंत्री हैं शामिल
सीएम कमलनाथ ने पहले ही कैबिनेट सब कमेटी बनाई थी जो फर्जी तरीके से आवंटित हुए घरों की जांच की रिपोर्ट तैयार करे, लेकिन अब कोई चूक ना हो इसके लिए उन्‍होंने माइक्रो कमेटी बनाई है. इस कमेटी में रह कर मंत्री गोविंद सिंह और गृह मंत्री बाला बच्चन माइक्रो जांच करेगें. आपको बता दें कि फर्जी आवंटन पर आवास छिन जाने के साथ ही कड़ी कार्रवाई होगी. यही नहीं, आपराधिक प्रकरण भी दर्ज किए जाएंगे. मंत्री का दावा है कि 2 महीने के अंदर सत्यापन के काम को पूरा किया जाएगा.

सरकार को मिलीं ये शिकायतें

>>कमर्शियल यूज़ की मिली शिकायत.
>>एक व्यक्ति को दो मकान आवंटित होने की शिकायत.
>>सरकारी आवास निजी लोगों को मिलने की शिकायत.
Loading...

>>छोटे आवास की पात्रता वालों को मिला बड़ा आवास.

भाजपा ने किया पलटवार
बीजेपी मामले पर सरकार की हसी उड़ाने में लगी है. मध्‍य प्रदेश के पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि सरकार 10 महीने से जांच कर रही है,लेकिन अभी तक कोई निर्णय नहीं ले पाई है. सरकार जांच पर जांच कर रही है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

ये भी पढ़ें-

श्रद्धांजलि : अब्दुल जब्बार- ख़ामोश हो गयी भोपाल गैस पीड़ितों की आवाज़
व्यापम मामले में जल्‍द होगा बड़ा खुलासा, कमलनाथ के मंत्री ने दिए संकेत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 4:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...