शिवराज की धमकी का कमलनाथ सरकार ने ऐसे दिया जवाब

पूर्व मुख्यमंत्री ने करोड़ों रुपए आदिवासी के नाम पर खर्च किए लेकिन मुख्य धारा से आदिवासियों को नहीं छोड़ पाए. अब शिवराज उन मुद्दों को उठा रहे हैं जिन्हें वो 15 साल में पूरे नहीं कर पाए.

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 18, 2019, 6:19 PM IST
शिवराज की धमकी का कमलनाथ सरकार ने ऐसे दिया जवाब
शिवराज को कमलनाथ का जवाब
Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 18, 2019, 6:19 PM IST
भोपाल में मंगलवार दोपहर को पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आदिवासियों के समर्थन में प्रदर्शन किया. आरोप लगाया कि कमलनाथ सरकार आदिवासियों की समस्याओं पर ध्यान नहीं दे रही. शाम होते-होते सरकार ने शिवराज सिंह को उनके आरोपों का जवाब दे दिया.
13 साल का ब्यौरा- मंत्री पी सी शर्मा ने भोपाल में प्रेस कॉन्प्रेंस की. आरोप लगाया कि शिवराज सरकार ने अपने 13 साल के कार्यकाल में साढ़े तीन लाख आदिवासियों के पट्टे निरस्त किए थे. सहरिया जाति के लिए भी 15 साल में बीजेपी सरकार कुछ नहीं कर पायी. यहां तक कि आदिवासी क्षेत्रों में 50 फीसदी शिक्षकों के पद भी शिवराज सरकार नहीं भर पाई.
तेंदुपत्ता राशि-पिछली सरकार में तेंदुपत्ता की राशि बैंक खातों में दी जाती थी, लेकिन कमलनाथ सरकार 80 फीसदी राशि नगद दे रही है.शिवराज के मुख्यमंत्री रहते हुए झाबुआ में लॉ कॉलेज बंद हो गया था, शिवराज नहीं चाहते थे कि आदिवासी कानून की पढ़ाई करें.
मगरमच्छ के आंसू- मंत्री पीसी शर्मा ने कहा शिवराज मगरमच्छ के आंसू बहा रहे हैं.शिवराज को आदिवासियों के मुद्दे को केंद्र में उठाना चाहिए.पूर्व मुख्यमंत्री ने करोड़ों रुपए आदिवासी के नाम पर खर्च किए लेकिन मुख्य धारा से आदिवासियों को नहीं छोड़ पाए. अब शिवराज उन मुद्दों को उठा रहे हैं जिन्हें वो 15 साल में पूरे नहीं कर पाए.

ये भी पढ़ें-शिवराज ने जैसे ही ललकारा- सुन लो कमलनाथ सरकार...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

LIVE कवरेज देखने के लिए क्लिक करें न्यूज18 मध्य प्रदेशछत्तीसगढ़ लाइव टीवी
Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 18, 2019, 6:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...