Home /News /madhya-pradesh /

Ayodhya Verdict : CM कमलनाथ की अपील-सब मिलजुल कर फैसले का सम्मान करें

Ayodhya Verdict : CM कमलनाथ की अपील-सब मिलजुल कर फैसले का सम्मान करें

कलाकारों और समाजसेवियों का सम्मान करेगी कमलनाथ सरकार

कलाकारों और समाजसेवियों का सम्मान करेगी कमलनाथ सरकार

सीएम कमलनाथ (cm kamalnath) ने लिखा-यह प्रदेश हमारा है. हम सभी का है. कुछ भी हो, हमारा प्रेम, हमारी मोहब्बत , हमारा भाईचारा (Brotherhood) , हमारा आपसी सौहार्द्र (Brotherhood) ख़राब ना हो, यह हम सभी की ज़िम्मेदारी है.

    भोपाल.राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद (Ram Janmbhoomi Babri Masjid Dispute) मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) का फ़ैसला आ चुका है. फैसला आते ही एमपी के सीएम कमलनाथ (cm kamalnath) ने फिर मध्य प्रदेश की जनता के नाम अपील जारी की है. उन्होंने कहा-सर्वोच्च न्यायालय के इस फ़ैसले का हम सभी मिलजुलकर सम्मान और आदर करें.किसी प्रकार के उत्साह,जश्न और विरोध का हिस्सा ना बनें.

    अफवाहों से बचें
    मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने ट्वीट किया है. उसमें उन्होंने लिखा, मैं एक बार फिर आपसे अपील करता हूं कि सर्वोच्च न्यायालय के इस फ़ैसले का हम सभी मिल जुलकर सम्मान और आदर करें.किसी प्रकार के उत्साह,जश्न व विरोध का हिस्सा ना बनें.अफ़वाहों से सावधान और सजग रहे.किसी भी प्रकार के बहकावे में ना आएं. आपसी भाई-चारा , संयम , अमन-चैन ,शांति, सद्भाव और सोहार्द्र बनाए रखने में पूर्ण सहयोग प्रदान करें.


    बहकावे में ना आएं
    सीएएम कमलनाथ ने लिखा-सरकार प्रदेश के हर नागरिक के साथ खड़ी है.क़ानून व्यवस्था और अमन-चैन से खिलवाड़ करने वाले किसी भी तत्व को बख़्शा नहीं जाएगा. पूरे प्रदेश में पुलिस प्रशासन को ऐसे तत्वों पर सख़्ती से कार्रवाई के निर्देश पहले से ही दिए जा चुके हैं.
    ये प्रदेश हमारा है
    सीएम कमलनाथ ने लिखा-यह प्रदेश हमारा है. हम सभी का है. कुछ भी हो, हमारा प्रेम, हमारी मोहब्बत , हमारा भाईचारा, हमारा आपसी सौहार्द्र ख़राब ना हो, यह हम सभी की ज़िम्मेदारी है.आज आवश्यकता है अमन और मोहब्बत के पैग़ाम को सभी तक फैलाने की और नफ़रत और वैमनस्य को परास्त करें.

    ये भी पढ़ें-Ayodhya Verdict : MP में सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम, चप्पे-चप्पे पर पुलिस

    MP विधानसभा में 41% MLA दागी? 'तुम्हारी कमीज पर ज्यादा दाग' पर उलझे नेता

    Tags: Ayodhya Verdict, Kamal nath, Ram janambhumi controversy, Supreme court of india

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर