बीजेपी की राह पर कांग्रेस! मध्य प्रदेश में चुनाव जीती तो बनाएगी रामपथ

कांग्रेस ने दावा किया है कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो वो रामपथ भव्य तरीके से बनाया जाएगा, जिसका मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बारह साल पहले वादा किया था जो आज तक अधूरा है

manoj sharma | News18India
Updated: September 11, 2018, 6:58 PM IST
बीजेपी की राह पर कांग्रेस! मध्य प्रदेश में चुनाव जीती तो बनाएगी रामपथ
Kamalnath (File Photo)
manoj sharma
manoj sharma | News18India
Updated: September 11, 2018, 6:58 PM IST
हर पंचायत में गोशाला बनाने के वादे के बाद अब कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में राम पथ बनवाने का ऐलान किया है. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने दावा किया है कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो वो रामपथ भव्य तरीके से बनाया जाएगा. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 12 साल पहले रामपथ बनाने का वादा किया था, लेकिन आज तक अधूरा है.

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 12 साल पहले घोषणा की थी कि वनवास के दौरान राम भगवान मध्य प्रदेश के जिस जिस स्थान से होकर गुजरे थे वहां पर रामपथ बनाएंगे. रामपथ तो बना नहीं, लेकिन कांग्रेस ने राम की राह ज़रूर पकड़ ली. पार्टी 21 सितंबर से राम वन गमन पथ यात्रा निकाल रही है. कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी और मुख्यमंत्री रामपथ बनाने की बात भूल चुके है और कांग्रेस इसे आगे ले जाएगी.

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि क्या बीजेपी ने धर्म का ठेका लिया है, हमें बीजेपी से कोई प्रमाण पत्र नहीं चाहिए. बीजेपी धर्म का राजनीतिक मंच पर उपयोग करती है. हम राम गमन पथ का निर्माण करेंगे.

कांग्रेस 21 सितंबर से चित्रकूट से राम वन गमन पथयात्रा शुरू होगी. रामायण में 14 साल के वनवास के दौरान भगवान राम जिन रास्तों से गुजरे वहां वहां से ये यात्रा निकलेगी.


राम वन गमन पथ यात्रा चित्रकूट से निकलकर यात्रा सतना, रीवा, पन्ना, छतरपुर, शहडोल, अनूपपुर तक जाएगी. यात्रा के दौरान रथ में अखंड मानस पाठ और भजन कीर्तन होंगे. ये यात्रा चुनाव के ठीक पहले होगी और बाद में अगर कांग्रेस जीत गई तो बीजेपी के रामपथ बनाने के वादे को पूरी करेगी.

मामले में कांग्रेस प्रवक्ता शोभा ओझा ने कहा कि रामपथ गमन की घोषणा शिवराज सिंह चौहान ने की थी, लेकिन 12 साल में कुछ नहीं हुआ. बीजेपी धार्मिक आस्था को वोट लेने के लिए इस्तेमाल करती है. कांग्रेस ऐसा ढांचा तैयार करेगी कि सैलानी आएं और इसके माध्यम से रोज़गार भी आए
.

वहीं, इस मामले में बीजेपी ने कांग्रेस पर पलटवार किया है. प्रदेश के सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग का कहना है कि ये वही कांग्रेस है जो भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल उठाती थी. राम सेतु पर सवाल उठाती थी. अब वही राजनैतिक लाभ लेने के लिए राम नाम का सहारा ले रही है.
Loading...
हालांकि 12 साल पहले घोषणा के बाद मध्य प्रदेश में रामपथ क्यों नहीं बन पाया. इस सवाल का बीजेपी के पास जवाब नहीं है. यही वजह है कि कांग्रेस को राम के नाम पर बीजेपी को घेरने का मुद्दा भी मिल गया  है और राम के नाम पर यात्रा निकालने का बहाना भी मिल गया है.

ये पढ़ें- पेट्रोल पंप ने निकाला ऑफर, तेल भराने पर मिल रही है मोटरसाइकिल!
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर