COVID-19: मध्य प्रदेश में CM शिवराज के अलावा और कितने नेताओं-अफसरों को हुआ Corona, पढ़ें स्पेशल रिपोर्ट
Bhopal News in Hindi

COVID-19: मध्य प्रदेश में CM शिवराज के अलावा और कितने नेताओं-अफसरों को हुआ Corona, पढ़ें स्पेशल रिपोर्ट
मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की जद में मुख्यमंत्री समेत कई नेता और विधायक आ चुके हैं.

Madhya Pradesh COVID-19: कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में MP में कांग्रेस के मुकाबले BJP के ज्यादा नेता हुए संक्रमित. इसके अलावा कई पूर्व विधायक और सरकारी अधिकारी-कर्मचारी भी वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) की चपेट में आए.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में उपचुनाव (MP ByPolls) की सरगर्मियों के बीच कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण ने सबकी चिंताएं बढ़ा रखी हैं. खासकर सियासी गलियारों में कोरोना (COVID-19) की दस्तक बढ़ने से नेताओं की चिंताएं बढ़ गई हैं. प्रदेश में अभी तक 60 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं. इन मरीजों की लिस्ट में सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) से लेकर उनकी कैबिनेट के 7 मंत्रियों, कांग्रेस और बीजेपी के 9 विधायकों और कई पूर्व MLA भी शामिल हैं. यही नहीं, प्रशासनिक स्तर पर वायरस संक्रमण की रोकथाम में जुटे आधा दर्जन से ज्यादा अधिकारी भी कोरोना से बच नहीं पाए हैं.

इसके अलावा भाजपा के बड़े नेताओं में ज्योतिरादित्य सिंधिया, मध्य प्रदेश पार्टी इकाई के अध्यक्ष वीडी शर्मा, महेंद्र सिंह सोलंकी और सुहास भगत की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आ चुकी है. गौर करने वाला एक आंकड़ा यह है कि सत्ताधारी बीजेपी (BJP) के विधायक कांग्रेस (Congress) के मुकाबले इस वायरस की चपेट में ज्यादा पाए गए हैं.

शिवराज कैबिनेट के 7 मंत्री हुए संक्रमित
कोरोना के संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच प्रदेश की राजनीति में भी हड़कंप मचा हुआ है. अब तक एक दर्जन से ज्यादा बड़े नेता संक्रमित हो चुके हैं. प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान के साथी कैबिनेट सरकार के 7 मंत्री अब तक करोना संक्रमित हो चुके हैं. इनमें गोपाल भार्गव, अरविंद सिंह भदौरिया, प्रभु राम चौधरी, विश्वास सारंग, तुलसी सिलावट, मोहन यादव और रामखेलावन पटेल शामिल हैं.
इनके अलावा कांग्रेस पार्टी के कई नेता और बीजेपी के विधायक भी संक्रमित हो चुके हैं. कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी, ग्वालियर दक्षिण के कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक, भाजपा विधायक दिव्यराज सिंह (सिरमौर), नीना वर्मा, राकेश गिरी (टीकमगढ़), ठाकुरदास नागवंशी (पिपरिया) और ओमप्रकाश सखलेचा (जावद) कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं.



IAS अफसर और पूर्व विधायक भी आए चपेट में
संक्रमण के शुरुआती दौर में स्वास्थ्य विभाग में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला था. इसकी जद में सबसे पहले आईएएस अधिकारी जे. विजय कुमार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. उसके बाद पीएस हेल्थ पल्लवी जैन गोविल, सोमेश मिश्रा, गिरीश शर्मा, अजय सिंह गंगवार, मनीषा सेंतिया, अरविंद दुबे कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. वहीं प्रदेश के कई पूर्व विधायकों में भी वायरस का संक्रमण पाया गया है. इनमें कमलेश जाटव (अम्बाह), रघुराज कंसाना (मुरैना), यादवेन्द्र सिंह (टीकमगढ़), भानु राणा(देवरी), अनिल जैन (निवाड़ी) शामिल हैं.

कांग्रेस ने उठाए सवाल
मध्य प्रदेश की राजनीति में कोरोना वायरस की इंट्री को लेकर भी सियासत हो रही है. विपक्षी कांग्रेस का आरोप है कि कोरोनाकाल की शुरुआत से अभी तक भाजपा नेता Corona गाइडलाइन का उल्लंघन करते रहे हैं. कांग्रेस का आरोप है कि उपचुनाव को लेकर बीजेपी जिस तरह के आयोजन कर रही है, उससे सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकॉल का उल्लंघन होता रहा है. खासकर बीते दिनों स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव सुलेमान ने जब प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सार्वजनिक रूप से नेताओं से अपील की कि राजनीतिक आयोजनों में भीड़भाड़ से संक्रमण का खतरा होगा, उसके बाद कांग्रेस अपने आरोपों को लेकर और मुखर हो गई है.

हालांकि स्वास्थ्य विभाग के दिशा-निर्देशों या कोरोना प्रोटोकॉल का बीजेपी के आयोजनों पर कोई असर पड़ता दिखाई नहीं दे रहा है. बीते दिनों ग्वालियर में पार्टी ने सदस्यता अभियान चलाया, इसके बाद शहर में 200 लोगों में संक्रमण फैलने की खबर आई, तो कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी पर हमले तेज कर दिए थे. कहा गया था कि बीजेपी के अभियान के दौरान 200 से ज्यादा लोगों में कोरोना का संक्रमण फैला.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज