Home /News /madhya-pradesh /

केपी यादव और Jyotiraditya Scindia के बीच चल रही सियासी तकरार में आया ये नया ट्विस्ट

केपी यादव और Jyotiraditya Scindia के बीच चल रही सियासी तकरार में आया ये नया ट्विस्ट



KP Yadav Vs Jyotiraditya Scindia: केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों की शिकायत करने वाले गुना सांसद केपी यादव के खिलाफ भी शिकायत हो गई है.

KP Yadav Vs Jyotiraditya Scindia: केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों की शिकायत करने वाले गुना सांसद केपी यादव के खिलाफ भी शिकायत हो गई है.

Jyotiraditya Scindia Vs KP Yadav: गुना बीजेपी सांसद केपी यादव ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों के खिलाफ कुछ दिनों पहले बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को शिकायती पत्र भेजा था. अब केपी यादव खुद उलझ गए हैं. गुना जिले के बीजेपी किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष प्रेम नारायण वर्मा ने यादव पर दबंगई का आरोप लगाते हुए उनकी शिकायत नड्डा से की है. वर्मा का आरोप है कि सांसद केपी यादव के इशारे पर उन्हें न केवल पीटा गया, बल्कि उनकी फसल भी हड़प ली गई.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. गुना से बीजेपी सांसद केपी यादव और नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच चल रही सियासी तकरार में नया मोड़ आ गया है. यह नया मोड़ कुछ ऐसा है कि अब दांव खुद सांसद केपी यादव पर उल्टा पड़ता दिखाई दे रहा है. कुछ दिन पहले राज्यसभा सांसद सिंधिया और उनके समर्थकों के खिलाफ बीजेपी शिकायत करने वाले केपी यादव के खिलाफ भी एक शिकायत राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से हो गई है.

गुना जिले के बीजेपी के किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष प्रेम नारायण वर्मा ने केपी यादव पर दबंगई करने का आरोप लगाया है. उन्होंने इसकी शिकायत राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से की है. प्रेम नारायण ने शनिवार को बीजेपी प्रदेश मुख्यालय पहुंचकर आरोप लगाया कि सांसद केपी यादव के इशारे पर उनके साथ मारपीट हुई और फसल हड़पी गई.

केपी यादव ने की थी शिकायत

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही केपी यादव ने एक चिट्ठी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखी थी. इस चिट्ठी में बीजेपी के सांसद केपी यादव ने यह आरोप लगाया था कि केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थक मंत्रियों की वजह से उनके संसदीय क्षेत्र गुना में उन्हें मान-सम्मान नहीं दिया जा रहा. सांसद यादव ने चिट्ठी में सिंधिया समर्थक मंत्रियों को कटघरे में खड़ा किया था. हालांकि, बाद में इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री सिंधिया की सफाई भी आई और उन्होंने कहा कि हम एक ही परिवार के सदस्य हैं और मिलजुल कर काम करेंगे. लेकिन, अब केपी यादव के खिलाफ हुई शिकायत ने मामले ने दिलचस्प मोड़ ले लिया है.

इतिहास जानना है जरूरी

बीजेपी सांसद केपी यादव और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच सामने आई इस सियासी तकरार के मायने इसलिए भी हैं क्योंकि केपी यादव एक जमाने में ज्योतिरादित्य सिंधिया के सांसद प्रतिनिधि हुआ करते थे. लेकिन, 2019 लोकसभा चुनाव में उन्होंने बीजेपी का दामन थाम लिया और बीजेपी ने केपी यादव को ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ मैदान में उतार दिया था. दिलचस्प यह रहा कि केपी यादव ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव में शिकस्त दे दी. हालांकि, बाद में बदले सियासी घटनाक्रम में ज्योतिरादित्य सिंधिया भी बीजेपी में शामिल हो गए और गुना संसदीय क्षेत्र को लेकर तकरार सामने आने लगी.

Tags: Jyotiraditya Scindia, Mp news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर