Home /News /madhya-pradesh /

VIDEO: बैन के पहले दिन भगवान हनुमान की शरण में पहुंची BJP की प्रज्ञा ठाकुर

VIDEO: बैन के पहले दिन भगवान हनुमान की शरण में पहुंची BJP की प्रज्ञा ठाकुर

अब साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भी योगी आदित्यनाथ की तरह भगवान हनुमान की शरण में पहुंची. साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भोपाल के हनुमान मंदिर में पहुंची और हनुमान चालीसा का पाठ किया.

    चुनाव आयोग ने भले ही साध्वी प्रज्ञा के प्रचार पर बैन लगा दिया हो लेकिन अब वो अपने ही तरीके से अब सुर्खियां बटोर रही हैं. साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने प्रचार पर 72 घंटे की रोक के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की राह पकड़ ली है. साध्वी प्रज्ञा हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ करते हुए नजर आईं.

    ज्ञात हो कि जब योगी आदित्यनाथ पर इलेक्शन कमीशन ने रोक लगाई थी तो योगी आदित्यनाथ भी हनुमान चालीसा करते नजर आए थे. वहीं अब साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भी योगी आदित्यनाथ की तरह भगवान हनुमान की शरण में पहुंची. साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भोपाल के हनुमान मंदिर में पहुंची और हनुमान चालीसा का पाठ किया.

    बता दें, साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर चुनाव आयोग ने 72 घंटों के लिए प्रतिबंध लगाया है. यह प्रतिबंध गुरुवार सुबह 6 बजे से शुरू हुआ. चुनाव आयोग ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर यह कार्रवाई बाबरी मस्जिद को लेकर दिए गए विवादित बयान पर की थी.

    बैन के पहले ही दिन साध्वी ने दोपहर 12 बजे तक 3 मंदिरों में दर्शन किए. सबसे पहले वो रिवेरा टाउन हनुमान मंदिर, पीर गेट भवानी मंदिर और उसके बाद लाल घाटी के गुफा मंदिर पहुंची. हनुमान मंदिर में साध्वी प्रज्ञा हनुमान की भक्ति में डूबी हुई दिखाईं दी. उन्होंने मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ किया. इस दौरान साध्वी ने अपने हाथों में मंजीरा लेकर बजाया भी.

    बीजेपी की साध्वी प्रज्ञा पर चुनाव आयोग का शिकंजा, लगाया 72 घंटे का प्रतिबंध

    हमले से पहले जवान का मां को आखिरी कॉल- 'मां मेरी फिक्र मत करो, मैं मजे में हूं'
    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Bhopal news, Bhopal S12p19, BJP, Election commission, Hanuman mandir, Lok Sabha Election 2019, Sadhvi Pragya

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर