एमपी के ट्रांसपोर्ट कमिश्नर पर राजनीतिक भेदभाव का आरोप, चुनाव आयोग से शिकायत

आरोप है कि ट्रांसपोर्ट कमिश्नर शैलेंद्र श्रीवास्तव चुनावों के दौरान न सिर्फ एक ख़ास पार्टी के पक्ष में माहौल बना रहे हैं.

News18Hindi
Updated: April 1, 2019, 4:05 PM IST
एमपी के ट्रांसपोर्ट कमिश्नर पर राजनीतिक भेदभाव का आरोप, चुनाव आयोग से शिकायत
मध्य प्रदेश ट्रांसपोर्ट कमिश्नर शैलेंद्र श्रीवास्तव
News18Hindi
Updated: April 1, 2019, 4:05 PM IST
मध्य प्रदेश ट्रांसपोर्ट विभाग के कमिश्नर आईपीएस शैलेंद्र श्रीवास्तव पर एक ख़ास राजनीतिक पार्टी के पक्ष में शक्तियों के दुरूपयोग का आरोप लगा है. श्रीवास्तव के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत भी की गई है. आरोप है कि श्रीवास्तव चुनावों के दौरान न सिर्फ एक पार्टी के पक्ष में माहौल बना रहे हैं बल्कि इसके बदले में वो 4 साल से भी ज्यादा वक़्त से लगातार ट्रांसपोर्ट विभाग के कमिश्नर भी बने हुए हैं.

क्या है मामला
शिकायतकर्ता अजय वाजपेयी ने मध्य प्रदेश ट्रांसपोर्ट विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग से 31 मार्च को शिकायत की है. शिकायतकर्ता के वकील अजय ब्रह्मे के मुताबिक पहला सवाल ये है कि शैलेंद्र श्रीवास्तव लगातार 4.3 सालों से कैसे एक ही विभाग में कमिश्नर जैसे पद पर बने हुए हैं. विधानसभा चुनावों के बाद अब लोकसभा चुनाव भी सर पर हैं लेकिन उनका तबादला नहीं हुआ. जबकि आदर्श स्थिति में ऐसा कोई भी व्यक्ति को चुनावी प्रक्रिया से सीधे जुड़ा हो उसका तीन साल के अन्दर ट्रांसफर हो जाना चाहिए.



मध्य प्रदेश चुनाव आयोग के पास ऐसी शिकायतें लगातार आ रही हैं कि शैलेंद्र अपने पद का दुरूपयोग कर एक पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. अजय ब्रह्मे के मुताबिक चुनाव के दौरान चाहे ईवीएम लाने- ले जाने का कम हो या फिर अन्य चुनाव से जुड़े लोगों को बूथ तक पहुंचाना, सभी काम में ट्रांसपोर्ट विभाग का सीधा दखल रहता है. ऐसे में किसी ख़ास विचार के समर्थक आदमी का कमिश्नर जैसे पद पर रहना सवालों के घेरे में है. मध्य प्रदेश ट्रांसपोर्ट विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेट्री मलय श्रीवास्तव से भी इस संबंध में शिकायत की गई थी लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया. शिकायत में चुनाव आयोग से जल्द से जल्द कार्रवाई करने की मांग की गई है.

प्रमोशन का ऐलान हो चुका है
बता दें कि शैलेंद्र श्रीवास्तव का प्रमोशन हो गया है, उन्हें मध्यप्रदेश सरकार ने डीजी बना दिया है. 1986 बैच के आईपीएस आफिसर शैलेंद्र श्रीवास्तव अब स्पेशल डीजी और पुलिस हाउसिंग बोर्ड के चेयरमैन होंगे. श्रीवास्तव 31 जुलाई को रिटायर हो रहे स्पेशल डीजी सरबजीत सिंह के खाली हो रहे पद को संभालेंगे. साइबर क्राइम में एक्सपर्ट माने जाने वाले शैलेंद्र श्रीवास्तव अपने करियर में कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2019, 4:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...