Assembly Banner 2021

आज से भोपाल की सड़कों पर दौड़ेगी लो फ्लोर बसें, कोरोना से बचने करना होगा ये काम

भोपाल में बस सेवाएं धीरे धीरे शुरू हो रही हैं.  (सांकेतिक तस्वीर)

भोपाल में बस सेवाएं धीरे धीरे शुरू हो रही हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना (Corona) संक्रमण से बचने के लिए मार्च में लगे लॉकडाउन के बाद से ही भोपाल (Bhopal) में बस सेवाएं बंद थीं. अब भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड ने लो फ्लोर बसों को चलाने का फैसला किया है.

  • Share this:
भोपाल. कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के बीच लोगों को संक्रमण की चपेट में आने से बचाने के लिए परिवहन विभाग ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में संचालित हो रही बसों को बंद कर दिया था. बसों को बंद करने के पीछे मकसद यह था कि लोग अपने घरों में रहें और सुरक्षित रहें और सिर्फ इमरजेंसी काम के लिए ही घर से बाहर निकलें. लेकिन अब जैसे जैसे शहर की व्यवस्थाओं को खोला जा रहा है. उसी क्रम में अनलॉक फेस 4 में परिवहन बसों की सुविधा को शुरू कर दिया गया है. इसकी शुरुआत 3 सितंबर से की जा रही है.

राजधानी भोपाल में गुरुवार से लो फ्लोर बसों का संचालन शुरू हो रहा है. भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड ने लो फ्लोर बसों को चलाने का फैसला किया है. शासन ने 19 अगस्त को सामान्य रूप से पूरे प्रदेश में बसों का संचालन करने का आदेश जारी किया था. प्रदेश सरकार के गृह विभाग के आदेश के पूरे 12 दिन बाद बीसीएलएल ने 3 सितंबर से लो फ्लोर बसों को चलाने का फैसला कर लिया है. फिलहाल बीसीएलएल ने शहर के 2 मार्गों पर 9 बसों को चलाने की बात पर हामी भरी है.

कॉंटेक्ट लेस टिकट की मिलेगी सुविधा
लॉकडाउन होने के बाद बसों का संचालन बंद कर दिया गया था. लॉकडाउन खोलने के बाद अब बसों के संचालन में कोरोना महामारी की गाइडलाइन का पालन करना पूरी तरह अनिवार्य होगा. सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए मास्क पहने यात्रियों को ही बस में बैठने की अनुमति दी जाएगी. बसों को समय-समय पर सैनेटाइज भी लगातार किया जाएगा. कोरोना के मद्देनजर कांटेक्ट लेस टिकटिंग सर्विस की सुविधा लागू की जा रही है .जिसके तहत बस कार्ड, मोबाइल टिकटिंग, सुपर 7 प्लान और यूपीआई सहित क्यूआर कोड स्कैन कर टिकट लिया जा सकेगा.
ये भी पढ़ें: MP: कांग्रेस MLA बोले- विधानसभा का गेट तोड़ जाऊंगा जेल, BJP ने कहा- ऐसी बातें शोभा नहीं देती



इन रास्तों पर होगा बस का संचालन
बीसीएलएल के द्वारा जानकारी दी गई है कि अभी एसआर (1) चिरायु अस्पताल, भैंसा खेड़ी से बैरागढ़, चीचली कोलार और न्यू मार्केट की ओर चलाई जाएगी. इसके अलावा एसआर(1 ) ए, चिरायु अस्पताल से बैरागढ चीचली और वल्लभ भवन तक चलाई जाएगी. सवारियां ज्यादा संख्या में मिलने पर अन्य मार्गों पर भी बसें चलाई जा सकती हैं, इस पर निर्णय स्थिति को देखते हुए लिया जाएगा. बसों के संचालन के पहले बसों की साफ सफाई की गईं. सभी बसों को सैनेटाइज भी किया गया. इसके अलावा बसों का संचालन करने वाले ड्राइवर और कंडक्टर को भी स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देश का पालन करने का प्रशिक्षण दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज