इमरती देवी विवाद: कमलनाथ खेद जताने की जगह 'आइटम' के अलग-अलग अर्थ बता रहे- BJP

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने डबरा सीट से बीजेपी की प्रत्याशी इमरती देवी पर दिए अपने बयान पर सफाई दी है
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने डबरा सीट से बीजेपी की प्रत्याशी इमरती देवी पर दिए अपने बयान पर सफाई दी है

शिवराज सरकार (Shivraj Government) में मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि कमलनाथ (Kamalnath) खेद व्यक्त करने की जगह 'आइटम' के अलग-अलग अर्थ बता रहे हैं, यह दुर्भाग्यजनक है. उन्होंने कहा कि होना यह चाहिए था कि उन्हें खेद जताते हुए प्रदेश की महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 6:19 PM IST
  • Share this:
भोपाल. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) के बीजेपी की प्रत्याशी इमरती देवी (Imarti Devi) के खिलाफ की गई अपमानजनक टिप्पणी को लेकर विवाद जारी है. कमलनाथ द्वारा इस पर सफाई देने के बाद भी बीजेपी (BJP) का गुस्सा कम नहीं हो रहा है. बीजेपी ने इसे लेकर लगातार दूसरे दिन कमलनाथ पर हमला बोला है. सोमवार को शिवराज सरकार (Shivraj Government) में मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि यह विषय चुनाव के मद्देनजर हमारी तरफ से नहीं आया है. कमलनाथ खेद व्यक्त करने की जगह 'आइटम' के अलग-अलग अर्थ बता रहे हैं, यह दुर्भाग्यजनक है. उन्होंने कहा कि होना यह चाहिए था कि उन्हें (कमलनाथ) खेद जताते हुए प्रदेश की महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए थी. मगर कमलनाथ ने एक बार फिर मजाक उड़ाने का काम किया है, हम इसकी निंदा करते हैं.

हालांकि जब भूपेंद्र सिंह से बीजेपी के कैंडिडेट बिसाहूलाल साहू की अमर्यादित टिप्पणी को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी यह बयान मैंने देखा नहीं है.

इमरती देवी ने कमलनाथ पर पलटवार करते हुए उन्हें कलंकनाथ बता दिया.
इसी साल मार्च में कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुईं इमरती देवी को पार्टी ने डबरा विधानसभा सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है (फोटो: ANI)




जवाब में कांग्रेस ने बीजेपी को बिसाहूलाल की अमर्यादित टिप्पणी की याद दिलाई
बीजेपी के वार पर पलटवार करते हुए राज्य कांग्रेस के प्रवक्ता अजय सिंह यादव ने कहा कि बीजपी नेताओं को न प्रदेश की जनता से कोई लेना-देना है और न ही महिलाओं से, वो केवल अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए धरना-प्रदर्शन का नाटक भर करते हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश के कैबिनेट मंत्री और अनूपपुर सीट से बीजेपी के उम्मीदवार बिसाहूलाल साहू कांग्रेस प्रत्याशी विश्वनाथ सिंह की पत्नी के लिए अमर्यादित बर्ताव करते है, क्या वो महिला सम्मानीय नहीं हैं. क्या उस महिला की अस्मिता और सम्मान की रक्षा करना सरकार का दायित्व नहीं है.



यादव ने कमलनाथ का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने किसी की अस्मिता को ठेस पहुंचाने वाली बात नहीं कही है. उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अमर्यादित बर्ताव, अमर्यादित काम करने वाली और अपराधियों को संरक्षण देने वाली पार्टी बीजेपी है. जनता सब समझती है और उपचुनाव में वो बीजेपी को सबक सिखाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज