MP By-Election: कमलनाथ ने शिवराज को बताया 'नालायक', CM बोले- तसल्ली मिले तो फिर कह लें

पूर्व सीएम कमलनाथ ने सीएम शिवराज सिंह पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)
पूर्व सीएम कमलनाथ ने सीएम शिवराज सिंह पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

उपचुनाव (By-Election) से पहले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सियासी बयानों के तीर खूब चल रहे हैं. किसान कर्ज माफी को लेकर पूर्व सीएम कमलनाथ ने सीएम शिवराज सिंह पर निशाना साधा है.

  • Share this:
भोपाल. उपचुनाव (By-Election) से पहले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सियासी बयानों के तीर खूब चल रहे हैं. इनमें भाषा की मर्यादा भी कहीं ना कहीं गिरती हुई दिखाई दे रही है. आमतौर पर अपशब्द कहने से बचने वाले पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस (Congress) कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ (Kamal Nath) भी अब इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं. दो दिन के दौरे पर ग्वालियर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) को नालायक तक कह दिया. इसके बाद अब सियासी बयानबाजियों का दौर शुरू हो गया है.

दरअसल कमल नाथ किसान कर्जमाफी पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बोल रहे थे, जिस पर उन्होंने कहा कि 'बीजेपी वाले कितना भी बक ले हमने 26 लाख किसानों का कर्ज माफ किया है. शिवराज जी कहते हैं आपने 10 दिन में माफ नहीं किया, शिवराज जी आप इतने नालायक तो नहीं हैं'. कमलनाथ के इस बयान पर सीएम शिवराज ने पलटवार करते हुए कहा कि 'मैं तो किसी को नालायक नहीं कहता, वो पहले भी मुझे नालायक कह चुके हैं अगर उनकी आत्मा को मुझे नालायक कहने से संतुष्टि मिलती है तो वो कहते रहें मैं कौन हूं ये जनता तय करेगी'.

सियासी वार-पलटवार
अभी कुछ दिन पहले ही सीएम शिवराज और कमलनाथ के बीच सियासी बयानों के तीर चले थे विधानसभा सत्र को लेकर हुई सर्वदलीय बैठक के बाद कमलनाथ ने कहा था कि विधानसभा में अगला स्पीकर 35 दिन बाद वो बनाएंगे. इस पर सीएम शिवराज ने पलटवार कर चुटकी लेते हुए कहा था कि कमल नाथ सही कह रहे हैं कि विधानसभा स्पीकर वह बनाएंगे लेकिन बीजेपी का बनाएंगे. दोनों के बीच इस बयान को भी सियासी तकरार के तौर पर देखा गयात्र
आर-पार की लड़ाई


उपचुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के बीच आर पार की लड़ाई है और इस आर पार की लड़ाई में सबसे अहम ग्वालियर चंबल संभाग है, जहां उपचुनाव की सबसे ज्यादा 16 सीटें हैं. यही वजह है कि कांग्रेस और बीजेपी दोनों अपना पूरा दम ग्वालियर चंबल में लगा रही हैं. इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ग्वालियर में 3 दिन तक कैम्प किया था. अब पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भी 2 दिन से ग्वालियर में कैम्प कर रहे हैं और दोनों नेताओं के बीच बयानों के तीर भी खूब चल रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज