दुर्लभ प्रजाति के कछुए का हो रहा था ऑनलाइन अवैध कारोबार, ऐसे खुला राज
Bhopal News in Hindi

दुर्लभ प्रजाति के कछुए का हो रहा था ऑनलाइन अवैध कारोबार, ऐसे खुला राज
भोपाल की टीम ने तस्कर के खिलाफ कार्रवाई की है.

दुर्लभ प्रजाति के कछुए (turtles) की तस्करी करने वाले कछुआ तस्कर को गिरफ्तार (Arrest) किया गया है. विलुप्त प्रजाति के 9 कछुए जब्त किए गए हैं.

  • Share this:
भोपाल. दुर्लभ प्रजाति के कछुए (turtles) की तस्करी करने वाले कछुआ तस्कर को गिरफ्तार (Arrest) किया गया है. विलुप्त प्रजाति के 9 कछुए जब्त किए गए हैं. जबलपुर (Jabalpur) से भोपाल (Bhopal) आई वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो (डब्ल्यूसीसीबी) की टीम और भोपाल उड़नदस्ता ने साथ मिलकर श्यामला हिल्स थाना इलाक़ा स्थित आंचलिक विज्ञान केंद्र के सामने से विलुप्त प्रजाति का एक इंडियन टेंट टर्टल और अन्य 8 कछुए जप्त किये हैं. दरअसल डब्ल्यूसीसीबी को मुखबिर से सूचना मिली कि करोंद निवासी हिजेफा बोहरा उम्र 26 साल विलुप्त प्रजाति के कछुओं की तस्करी करता है.

सूचना को गंभीरता से संज्ञान लेते हुए डब्ल्यूसीसीबी टीम भोपाल पहुंची और डीएफओ के निर्देश पर उड़नदस्ता और एसएएफ की टीम के साथ कार्रवाई को अंजाम दिया. कार्रवाई के दौरान आरोपी हुजेफा एक मोपेड की डिग्गी में 9 कछुए रखा हुआ था और ग्राहक बनकर आये डब्ल्यूसीसीबी के स्टाफ को 17 हजार 500 रुपयो में 8 कछुए बेचने की कोशिश कर रहा था. कछुए सामने आते ही वन विभाग की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. इन विलुप्त कछुआ की प्रजाति का ऑनलाइन अवैध कारोबारकिया जा रहा था, जिन्हें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ऑपरेशन वाइल्डनेट 3 के अंतर्गत वन्य प्राणियों के शारीरिक अंग तथा  प्राणियों के अवैध व्यापार किये जाने की खबर मिली थी.

इसलिए दुर्लभ
जब्त कछुआ इंडियन टेंट टर्टल-टायर 1 में आता है, जो अति विलुप्त प्रजाति में आते हैं. टीम ने संदिग्ध व्यक्ति को रोककर पूछताछ की गई और तलाशी लेने पर पाया गया कि उसके पास से 09 कछुए विलुप्त प्रजातियां (08 star tortoise और 01 Indian tent Turtle) पाया गया, जो कि प्रतिबंधित श्रेणी में आते हैं. इन्हें जब्त कर प्रकरण दर्ज किया गया. इसके बाद कार्रवाई करके रेंज ऑफिस उड़नदस्ता भोपाल लाया गया. आरोपी ने अपना नाम हुजैफा अबदे अली बोहरा भोपाल निवासी बताया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज