मंत्री गोविन्द सिंह ने कहा- अवैध रेत और पत्थर उत्खनन में लगे हैं एमपी के 90 % पुलिस अधिकारी

भाषा
Updated: August 27, 2019, 6:20 PM IST
मंत्री गोविन्द सिंह ने कहा- अवैध रेत और पत्थर उत्खनन में लगे हैं एमपी के 90 % पुलिस अधिकारी
गोविंद सिंह, सामान्य प्रशासन एवं सहकारिता मंत्री

मध्य प्रदेश के सामान्य प्रशासन एवं सहकारिता मंत्री ने गोविंद सिंह ने कहा है कि एमपी के 90 प्रतिशत पुलिस अधिकारी और 10 फीसदी खनिज अधिकारी उत्खनन में लगे हुए हैं.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के सामान्य प्रशासन एवं सहकारिता मंत्री गोविन्द सिंह (General Administration and Co-operative Minister Govind Singh) ने आरोप लगाया है कि प्रदेश के पुलिस अधिकारी खनिज अधिकारियों से मिलकर अवैध रेत और पत्थरों के उत्खनन (illegal sand and stone mining) में लगे हुए हैं. उन्होंने कहा कि 90 प्रतिशत पुलिस ( Police) एवं 10 प्रतिशत खनिज अधिकारी (mining officer) अवैध रेत, गिट्टी एवं पत्थर उत्खनन में शामिल हैं. दोनों मिलकर खनिज संपदा लूट रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘इस बारे में मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ से बात करूंगा.’

मैं सरकार में मंत्री रहते हुए भी अवैध उत्खनन रोक पाने में असफल हूं: मंत्री

गोविन्द सिंह ने कहा कि यह धंधा पिछले 15-20 साल से चल रहा है. उन्होंने कहा कि इसके खिलाफ मैं पिछले 15 वर्षों से लगातार लड़ाई कर रहा हूं लेकिन आज मैं सरकार में मंत्री होने के बावजूद अवैध उत्खनन रोकने में असफल महसूस कर रहा हूं.

मंत्री गोविंद सिंह


जो सचाई है, वह कहा है : सामान्य प्रशासन मंत्री 

उनसे जब सवाल किया गया कि आपने बयान दिया है कि 90 प्रतिशत पुलिस एवं 10 प्रतिशत खनिज अधिकारी अवैध रेत एवं पत्थर उत्खनन में शामिल हैं, तो इस पर सिंह ने फोन पर बताया, ‘हां कहा है. जो सचाई है, वह कहा है.’ उन्होंने दावा किया कि अवैध रेत एवं पत्थर उत्खनन पुलिस के सहयोग से ही चल रहे है.

पुलिस रेत के डंपरों पर आदमी बैठाकर कर रही वसूली 
Loading...

सहकारिता मंत्री गोविन्द सिंह ने बताया कि पुलिस कानून व्यवस्था न देखकर अवैध रेत एवं पत्थरों के उत्खनन में लगी है. प्रदेश में जो चोरियां एवं लूट हो रही हैं, उन्हें रोकने की बजाय पुलिस रेत के डंपरों पर आदमी बैठाकर वसूली कर रही हैं. उन्होंने कहा कि अवैध रेत उत्खनन रोकने की कार्रवाई करने पर प्रदेश में 15 हत्याएं हुई हैं, गोलियां चली हैं. पुलिसकर्मियों को भी गोलियां लगी हैं और पटवारियों को पीटा भी गया है.

मंत्री सिंह ने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस नीत मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश में खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वाले मिलावटखोरों के खिलाफ पिछले महीने से अभियान चलाया है, उसी प्रकार रेत के अवैध उत्खनन पर भी रोक लगाए, ताकि हमारी खनिज संपदा से ‘रॉयल्टी’ आए और उसे प्रदेश के विकास में लगाया जा सके.

सरकार में रहते हुए भी अवैध उत्खनन रोकने में असफल बताया

उनसे सवाल किया गया था कि नौ महीने गुजर जाने के बाद भी क्या अवैध उत्खनन पर लगाम लगाने में आपकी सरकार कहीं न कहीं असफल दिखाई देती हैं, तो इस पर सिंह ने भिण्ड में कुछ स्थानीय चैनल के पत्रकारों से कहा था, ‘‘यह सच्चाई है. मैं पिछले 15 वर्षों से लगातार लड़ाई लड़ रहा था और आज भी सरकार में रहते हुए अवैध उत्खनन रोकने में असफल रहा हूं. मैं अपनी गलती स्वीकार करता हूं.’

ये भी पढ़ें- VIDEO : कमलनाथ के मंत्री ने अफसरों से पूछा माल कहां रखा है!

ग्वालियर जिले के 1800 झोलाछाप डॉक्टरों पर कसेगा नकेल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 27, 2019, 5:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...