लाइव टीवी

कमलनाथ सरकार ने की 'शिखर सम्मान' की घोषणा, राहत इंदौरी समेत 27 हस्तियों को करेगी सम्मानित

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 16, 2019, 10:13 PM IST
कमलनाथ सरकार ने की 'शिखर सम्मान' की घोषणा, राहत इंदौरी समेत 27 हस्तियों को करेगी सम्मानित
स्वयं प्रकाश, राहत इंदौरी समेत 27 हस्तियों को मध्य प्रदेश सरकार का शिखर सम्मान

मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Government) ने शिखर सम्मानों (Shikhar Samman) का ऐलान कर दिया है. 18 नवम्बर को होने वाले अलंकरण समारोह में 27 साहित्यकारों और कलाकारों को सम्मानित किया जाएगा. राज्य सरकार ने 3 साल के सम्मान एक साथ देने का ऐलान किया है.

  • Share this:
भोपाल. कला और साहित्य (Art & Literature) के क्षेत्र में मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार का शिखर सम्मान समारोह (Shikhar Samman samaroh) 18 नवंबर को होगा. सरकार अलंकरण समारोह में 27 लेखक और कलाकारों को सम्मानित करेगी. अलंकरण समारोह में हिन्दी साहित्य (Hindi Literature), उर्दू साहित्य (Urdu Literature), संस्कृत साहित्य (Sanskrit Literature), शास्त्रीय नृत्य, शास्त्रीय संगीत (Classical Music), रूपंकर कलाएं, नाटक, आदिवासी और लोक कलाओं समेत दुर्लभ वाद्य के क्षेत्र में सम्मान प्रदान किए जाएंगे.

इन कलाकारों एवं साहित्यकारों का सम्मान करेगी मध्य प्रदेश सरकार

हिन्दी साहित्य क्षेत्र में
>> 2016 के लिए स्वयं प्रकाश भोपाल.

>> 2017 के लिए नरेन्द्र जैन उज्जैन.
>> 2018 के लिए शशांक भोपाल.

उर्दू साहित्य के क्षेत्र में>> 2016 के लिए डॉ. मुजफ्फर हनफी दिल्ली.
>> 2017 के लिए डॉ. राहत इन्दौरी, इंदौर.
>> 2018 के लिए प्रो. सादिक अली, दिल्ली.

संस्कृत साहित्य के क्षेत्र में
>> 2016 का सम्मान डॉ. राधावल्लभ त्रिपाठी भोपाल.
>> 2017 के लिए प्रो. भागीरथ प्रसाद त्रिपाठी वाराणसी.
>> 2018 का सम्मान डॉ. कृष्णकान्त चतुर्वेदी, जबलपुर को दिया जाएगा.

शास्त्रीय नृत्य के क्षेत्र में
>> 2016 के लिए विभा दाधीच इंदौर.
>> 2017 के लिए डॉ. सुचित्रा हरमलकर इंदौर.
>> 2018 के लिए डॉ. लता सिंह मुंशी भोपाल सम्मानित होंगी.

शास्त्रीय संगीत के क्षेत्र में
>> 2016 के लिए पं. सिद्धराम स्वामी कोरवार भोपाल.
>> 2017 के लिए पं. किरण देशपाण्डे भोपाल.
>> 2018 के लिए पं. विजय घाटे पुणे को सम्मानित जाएगा.

रूपंकर कलाओं के लिए
>> 2016 का सम्मान आर सी भावसार उज्जैन.
>> 2017 का सम्मान निर्मला शर्मा भोपाल.
>> 2018 का सम्मान सीमा घुरैया भोपाल को मिलेगा.

नाटक के क्षेत्र में
>> 2016 का सम्मान पापिया दासगुप्ता भोपाल.
>> 2017 का सम्मान लोकेन्द्र त्रिवेदी दिल्ली.
>> 2018 कन्हैयालाल कैथवास उज्जैन को मिलेगा.

आदिवासी लोक कलाओं के लिए
>> 2016 का सम्मान ललताराम मरावी डिंडौरी.
>> 2017 का सम्मान लक्ष्मी त्रिपाठी छतरपुर.
>> 2018 का सम्मान लाडो बाई भोपाल को दिया जाएगा.

दुर्लभ वाद्य बजाने के लिए
>> 2016 के लिए मैहर वाद्यवृन्द मैहर.
>> 2017 के लिए सुविर मिश्र मुम्बई.
>> 2018 के लिए संजय पंत आगले इंदौर को मिलेगा.

तीन साल के शिखर सम्मान समारोह में सम्मानित होने वालों को एक-एक लाख रुपये की सम्मान राशि, सम्मान पट्टिका, शाल-श्रीफल दिए जाएंगे. भारत भवन में आयोजित होने वाले अलंकरण समारोह में लता सिंह मुंशी ग्रुप के द्वारा भरतनाट्यम की प्रस्तुति होगी. साथ ही शास्त्रीय संगीत से सम्मानित प्रसिद्ध तबला वादक विजय घाटे अपनी प्रस्तुति देंगे.

ये भी पढ़ें -
ALERT: बड़ी कंपनियों के हेल्पलाइन नंबरों के माध्यम से ऐसे ठगी कर रहे हैं साइबर अपराधी

मध्य प्रदेश में छात्र संघ चुनावों की तारीख क्यों तय नहीं कर पा रहा उच्च शिक्षा विभाग?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 16, 2019, 9:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर