गौशाला के बाद कमलनाथ सरकार का नया कदम, गाय को गोद लेने की योजना हुई तैयार

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 10:08 PM IST
गौशाला के बाद कमलनाथ सरकार का नया कदम, गाय को गोद लेने की योजना हुई तैयार
कमलनाथ सरकार की गाय को सुरक्षा देने की नई कवायद.

कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) गाय को गोद लेने की योजना तैयार कर रही है. इस योजना के तहत स्थानीय और एनआरआई (NRI) एक तय राशि देकर गाय को गोद ले सकेंगे.

  • Share this:
भोपाल. मध्‍य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Government) एक हजार हाईटेक गौशाला (High-Tech Gaushalas) खोलने के ऐलान के बाद गायों की सुरक्षा के लिए नई योजना लागू करने जा रही है. इसके तहत कोई भी व्यक्ति गाय को गोद ले सकेगा और उसकी देखभाल से लेकर चारे तक की राशि देकर उसका खर्च उठा सकेगा. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने गाय के गोद लेने की योजना शुरू करने का प्रस्ताव तैयार किया है. इसके तहत कोई भी कंपनी या व्यक्ति, संस्था गाय को गोद लेकर उसका खर्च उठा सकेगी. इससे पहले राज्य सरकार गौशाला खोलने को लेकर देश के नामचीन उद्योगपतियों से चर्चा कर चुकी है. जबकि सीएम कमल नाथ की पहल पर बिड़ला उद्योग समूह के कुमार मंगलम बिड़ला (Kumar Mangalam Birla) ने प्रदेश में सौ हाई टेक गौ-शाला बनाने में मदद की सहमति दी है. अब सरकार की कोशिश है कि गाय को सुरक्षित करने के लिए जन भागीदारी को भी शामिल किया जाए और जो लोग गाय की सुरक्षा में मदद करना चाहते है उन्हें राशि देकर गाय की सुरक्षा में मदद देने का मौका दिया जाए.

सरकार का ये है प्रस्ताव
>>कमलनाथ सरकार का गाय को सुरक्षित करने का नया प्लान. सरकार लाएगी गाय को गोद लेने की योजना.
>>सरकारी फंड में राशि देकर गाय को लिया जा सकेगा गोद.

>>15 दिन से लेकर आजीवन गाय की सुरक्षा का प्लान. जबकि देखरेख से लेकर चारे तक का होगा इंतजाम.
>>गौशाला में रखी जाने वाली गाय को लोग ले सकेंगे गोद.
>>आजीवन गोद के लिए 3 लाख, एक साल के लिए 21 हजार रुपए, एक महीने के लिए 2100 रुपए और 15 दिनों के लिए 1100 रुपए देने होंगे.
Loading...

>>एनआरआई भी गाय को ले सकेंगे गोद.
>>गोद लेने वालों की तस्वीर वेबसाइट पर डाली जाएंगी.


स्थानीय और एनआरआई गोद ले सकेंगे गाय
गौशाला को राशि देकर स्थानीय और एनआरआई भी गाय को गोद ले सकेंगे. जबकि 15 दिन से लेकर आजीवन गाय गोद लेने की योजना तहत एक अच्‍छी खासी धन राशि खर्च करनी पड़ेगी. आजीवन गोद के लिए 3 लाख, एक साल के लिए 21 हजार रुपए, एक महीने के लिए 2100 रुपए और 15 दिनों के लिए 1100 रुपए देने होंगे.

सरकार ने गायों के लिए उठाया ये कदम
बहरहाल, प्रदेश की सत्ता संभालते ही सड़क पर घूमने वाली गायों को सुरक्षित करने के लिए नई गौशाला बनाने के ऐलान के साथ ही कमलनाथ सरकार ने इसके लिए जमीन चिन्हित करना शुरू कर दिया है. जबकि गौशाला बनाने से लेकर गायों की देखरेख और चारे के इंतेजाम के लिए सरकार अब निजी क्षेत्र की भागीदारी को बढ़ाने जा रही है. इसके लिए सरकार ने बड़े उद्योगपतियों से लेकर आम लोगों की मदद लेने की भी तैयारी कर ली है.

ये भी पढ़ें:- MP कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल प्लान, प्रवक्ता ऐसे करेंगे कमलनाथ सरकार की ब्रांडिंग

कमलनाथ सरकार की नई रेत नीति पर सियासत, BJP ने कहा-नई नीति नदियों की सेहत से खिलवाड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 10:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...