लाइव टीवी

लोकसभा चुनाव: मध्य प्रदेश की इन 6 सीटों पर है सबकी नजर

News18 Madhya Pradesh
Updated: May 11, 2019, 6:45 AM IST
लोकसभा चुनाव: मध्य प्रदेश की इन 6 सीटों पर है सबकी नजर
साध्वी प्रज्ञा और दिग्विजय सिंह

मध्य प्रदेश की 16 सीटों पर 12 मई और 19 मई को चुनाव होंगे. इनमें से 6 पर लोगों की निगाहें टिकी हुई हैं.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के लिए 12 मई को मतदान होगा. इससे पहले शुक्रवार शाम को छठे चरण का प्रचार थम गया. इस चरण में सात राज्यों की 59 लोकसभा सीटों पर वोटिंग होगी. वहीं, मध्य प्रदेश की कुल 29 सीटों में से अब तक 13 सीटों पर वोट डाले जा चुके हैं.

मध्य प्रदेश की बाकी बची 16 सीटों पर 12 मई और 19 मई को चुनाव होंगे. इन 16 सीटों में से 6 पर लोगों की निगाहें टिकी हुई हैं.

भोपाल
इस सीट पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह तथा बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बीच कांटे का टक्कर है. करीब 21 लाख वोटर्स वाले इस सीट पर बीजेपी और संघ ने पूरी ताकत लगा दी है. खास बात है कि हिंदू आतंकवाद का मुद्दा उठाने वाले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह साधु-संतों की मदद से बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रहे हैं.

इंदौर
पिछले 30 साल से बीजेपी का यहां कब्जा है. इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्‍यक्ष रहे शंकर लालवानी का मुकाबला कांग्रेस प्रत्‍याशी पंकज संघवी से है. इंदौर सीट पर बीजेपी पिछले आठ लोकसभा चुनाव से लगातार जीतती आ रही है. इस बार लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन के इस सीट से चुनाव लड़ने से इनकार के बाद मुख्‍य दावेदार बीजेपी के राष्‍ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी इस सीट से उतरने से इनकार कर दिया था.

ग्वालियर
Loading...

इस सीट पर बीजेपी के विवेक शेजवलकर का मुकाबला कांग्रेस के अशोक सिंह से है. ग्वालियर-चंबल में विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद बीजेपी ने यहां पूरी ताकत झोंक दी है. कांग्रेस के खिलाफ बहुजन समाज पार्टी को वोट कटवा माना जा रहा है.

खंडवा
इस सीट पर कांग्रेस के अरुण यादव का मुकाबला बीजेपी के नंदकुमार सिंह चौहान से है. यहां 12 मई को पीएम मोदी भी रैली करने वाले हैं. दोनों ही नेता अपने-अपने दलों के प्रदेश अध्यक्ष रहे हैं.

सागर
यहां पिछले छह चुनावों से बीजेपी का कब्जा है. कांग्रेस ने 1991 में यहां आखिरी बार जीत दर्ज की थी. मैदान में बीजेपी प्रत्याशी राजबहादुर सिंह और कांग्रेस उम्मीदवार प्रेमसिंह ठाकुर हैं. स्थानीय बीजेपी नेताओं के विरोध के चलते यहां कांटे का मुकाबला है.

देवास
कांग्रेस और बीजेपी ने यहां गैर राजनीतिक पृष्ठभूमि वाले चेहरों को मौका दिया है. जज रहे महेंद्र सोलंकी को बीजेपी ने टिकट दिया है. कांग्रेस ने कबीर भजन गायक प्रहलाद टिपाणिया को मैदान में उतारा है. दोनों ही प्रत्याशी पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं.

ये भी पढे़ं -

हाईटेक शौक और हेलीकॉप्टर से उड़ान... जानें कौन हैं भोपाल में धूनी रमाने वाले कम्प्यूटर बाबा

PHOTOS : धर्म से ज़्यादा राजनीति की वजह से चर्चा में रहते हैं कम्प्यूटर बाबा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 11, 2019, 5:13 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...