MP: केंद्रीय स्वास्थ्य टीम की फटकार के बाद अब हॉटस्पॉट जोन से शिफ्ट नहीं होंगे नेगेटिव मरीज 

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

भोपाल के सबसे ज्यादा हॉटस्पॉट जहांगीराबाद में कोरोना (Coronavirus) की चेन ब्रेक करने के लिए प्रशासन ने शिफ्टिंग फार्मूला अपनाया था. इसपर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने नाराजगी जताई है. ऐसे में हॉटस्पॉट इलाके से नेगेटिव मरीज को दूसरे इलाके में शिफ्ट नहीं किया जाएगा.

  • Share this:
भोपाल. राजधानी भोपाल के सबसे बड़े हॉटस्पॉट जहांगीराबाद (Jahangeerabad) में कोरोना (Coronavirus)  की चेन ब्रेक करने के लिए प्रशासन ने शिफ्टिंग फार्मूला (Shifting Formula) अपनाया था लेकिन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने इस फार्मूले पर नाराजगी जताई है. इसके बाद नेगेटिव मरीज को अब दूसरे इलाकों में शिफ्ट नहीं किया जाएगा.

हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने शहर में कोरोना की स्थिति का जायजा लिया और इस हॉटस्पॉट जोन का निरीक्षण भी किया. इसके साथ ही टीम ने डॉक्टरों से फीडबैक भी लिया. टीम ने जहांगीराबाद इलाके से शिफ्ट किए जा रहे लोगों को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की है. टीम का कहना है कि हॉटस्पॉट से कोरोना नेगेटिव लोग या अन्य लोगों को भी कहीं और शिफ्ट किया गया तो उससे भी संक्रमण फैलने का खतरा है. सूत्रों ने बताया कि इसके बाद प्रशासन ने अपने इस शिफ्टिंग प्लान को बंद कर दिया है. जहांगीराबाद इलाके में 2000 से ज्यादा लोगों को शिफ्ट किया जाना था. इनमें से 500 लोगों को दूसरे इलाकों में शिफ्ट किया भी गया. बताया जा रहा है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम के निर्देश के बाद यह फैसला वापस ले लिया गया है.

2000 लोगों को किया जाना था शिफ्ट



केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम के निर्देश के बाद अब शिफ्टिंग फॉर्मूले पर स्थानीय प्रशासन ज्यादा जोर नहीं दे रहा है. सूत्रों ने बताया कि प्रशासन सिर्फ उन मरीजों को शिफ्ट करेगा जिनमें संक्रमण की संभावना ज्यादा होगी. भविष्य में जिन मरीजों की नेगेटिव रिपोर्ट आएगी या जो व्यक्ति संक्रमण मुक्त हो जायेगा उसे उन इलाकों से शिफ्ट नहीं किया जाएगा. कुल मिलाकर नेगेटिव मरीज को शिफ्ट नहीं किया जायेगा। हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम के निरीक्षण के बाद शिफ्टिंग का काम पूरी तरीके से बंद है. प्रशासन इस प्लान को लेकर अभी स्थानीय स्तर पर पुनर्विचार भी कर रहा है.
प्रदेश का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट जोन

प्रदेश में जहांगीराबाद ऐसा इलाका बन गया है जो सबसे बड़ा हॉटस्पॉट है. भोपाल प्रशासन ने यहां अपनी पूरी ताकत लगा दी है. स्वास्थ्य विभाग से लेकर दूसरे विभाग के अधिकारी और कर्मचारी 24 घंटे कोरोना की चेन ब्रेक करने में लगे हुए हैं. यहां तमाम तरह के तरीके प्रयोग किए जा रहे हैं लेकिन संकरी गलियाँ और बहुमंजिला इमारतों में लोगों के खचाखच भरे होने के कारण कोरोना की चेन तोड़ने में काफी मुश्किलों का सामना भी करना पड़ रहा है. इस सुरक्षा की दृष्टि से पूरे इलाके को सील कर दिया गया है. यहां पर पुलिस ने 3 लेयर में सुरक्षा व्यवस्था को लगाया है.

ये भी पढ़ें: भोपाल: Lockdown तोड़ने पर 4 हजार लोगों पर मामले दर्ज, रोजाना 77 केस

मौसम का हाल:भोपाल में 175 किमी की रफ्तार से चली हवा ने तोड़ा 50 साल का रिकॉर्ड
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज