MP की सियासत में नया घमासान, पूर्व की कमलनाथ सरकार पर अब लगा बेटियों से धोखा का आरोप
Bhopal News in Hindi

MP की सियासत में नया घमासान, पूर्व की कमलनाथ सरकार पर अब लगा बेटियों से धोखा का आरोप
एमपी बीजेपी ने पूर्व की कमलनाथ सरकार पर आरोप लगाए हैं. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के 15 जिलों की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव (By-Election) से पहले बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के बीच सियासी घमासान चरम पर पहुंच गया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के 15 जिलों की 24 विधानसभा (Assembly) सीटों पर होने वाले उपचुनाव (By-Election) से पहले बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के बीच सियासी घमासान चरम पर पहुंच गया है. किसान कर्ज माफी के नाम पर पूर्व की कमलनाथ सरकार पर हमलावर बीजेपी ने कन्या विवाह योजना को लेकर भी तत्कालीन कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला है. एमपी बीजेपी ने ट्वीट के जरिए पूर्व की सरकार पर जोरदार निशाना साधा. एमपी बीजेपी का आरोप है कि पूर्व की कमलनाथ सरकार ने कन्या विवाह योजना की राशि को बढ़ाकर ₹51000 किया था, वह राशि अब तक खातों में नहीं पहुंची है.

एमपी बीजेपी ने पूर्व की कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट कर कहा, 'बेटियों का भी तोड़ा भरोसा, 51 हजार के नाम पर उनको भी दिया धोखा'. दरअसल, कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आते ही किसान कर्ज माफी के बाद दूसरा बड़ा फैसला कन्या विवाह योजना की राशि को बढ़ाने का लिया था, जिसके तहत बीजेपी सरकार में मिलने वाली कन्या विवाह योजना की राशि ₹28000 को बढ़ाकर ₹51000 किया गया था. पूर्व की कमलनाथ सरकार ने इस योजना की जमकर ब्रांडिंग की थी. लेकिन प्रदेश के वित्तीय हालातों के कारण इस तरह की खबरें आई की कन्या विवाह योजना की राशि योजना के पात्र लोगों के खातों तक नहीं पहुंची और अब कांग्रेस के सत्ता से जाने के बाद बीजेपी ने इसे पूर्व की सरकार के खिलाफ बड़ा हथियार बना लिया है.

ये भी पढ़ें: राजस्थान: PCC चीफ की अटकलों के बीच सचिन पायलट का बयान- 'राजनीति में कब क्या हो जाए मालूम नहीं'



कांग्रेस ने दिया ये जवाब
बीजेपी का आरोप है कि जिस योजना को शुरू कर कांग्रेस सरकार ने वाहवाही लूटने का काम किया. असल में उस योजना के तहत किसी को लाभ नहीं मिला और किसानों के साथ कर्ज माफी योजना के नाम पर धोखा करने के बाद प्रदेश में कन्या विवाह योजना के नाम पर भी धोखा हुआ. बीजेपी के इन आरोपों पर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा है कि पूर्व की कमलनाथ सरकार ने किसानों का कर्जा माफ किया है. इसके अलावा कन्या विवाह योजना के तहत भी राशि देने का काम हुआ है, लेकिन कन्या विवाह योजना के नाम पर राजनीति करना ओछी मानसिकता का परिचायक है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading