धोखाधड़ी मामले में ज्योतिरादित्य सिंधिया को बड़ी राहत, कोर्ट ने खारिज की याचिका
Bhopal News in Hindi

धोखाधड़ी मामले में ज्योतिरादित्य सिंधिया को बड़ी राहत, कोर्ट ने खारिज की याचिका
ज्योतिरादित्य सिंधिया कोर्ट से राहत मिल गई है. (File Photo)

कांग्रेस (Congress) का दामन छोड़ बीजेपी (BJP) में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को एक बड़ी राहत मिली है.

  • Share this:
भोपाल. कांग्रेस (Congress) का दामन छोड़ बीजेपी (BJP) में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को एक बड़ी राहत मिली है. राज्यसभा चुनाव में झूठा शपथ पत्र देने को लेकर दर्ज किए अपराध मामले की याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी है. भोपाल की विशेष न्यायाधीश एमपी एमएलए प्रबेंद्र सिंह की अदालत ने याचिका को खारिज कर दिया. कोर्ट ने मामला सारहीन होने से निरस्त कर दिया. याचिकाकर्ता गोपीलाल भारती की ओर से याचिका दायर की गई थी. कोर्ट से सिंधिया को राहत मिली है.

एमपी एमएलए मामलों के लिए गठित विशेष अदालत में यह याचिका दायर कर कहा गया था कि राज्यसभा चुनाव में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शपथ पत्र में गलत जानकारी दी थी. याचिका में कहा गया था कि बीते 13 मार्च को रिटर्निंग ऑफिसर को नांमांकन फ़ार्म जमा करने के दौरान दिए गए शपथ पत्र में यह घोषणा की थी कि उनके विरूद्व कोई भी अपराधिक मामला लंबित नहीं है.
ये भी पढ़ें: चीन सीमा पर सेना की मदद करेगी पुलिस, तैयार हुआ ये खास प्लान
26 दिसम्बर 2018 में दर्ज FIR का जिक्र
याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में यह उल्लेख किया था कि बीजेपी विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक संतोष शर्मा के परिवाद पत्र पर इसी अदालत ने दिग्विजय सिंह, कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिन्धिया के खिलाफ 26 सितंबर 2018 को धारा 465, 468, 469, 471,472, 474 एवं 120 बी के तहत आपरधिक मुकदमा दर्ज करने के आदेश भोपाल के श्यामला हिल्स पुलिस थाना को दिए थे. इसके बाद कोर्ट के आदेश पर एफआईआर भी दर्ज हुई थी. मामले की जानकारी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी सभा क्षेत्र में छुपाई है. इसलिए उनके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करने की मांग की गई. हालांकि इससे पहले ग्वालियर में सिंधिया के खिलाफ दायर याचिका को वापस कर दिया गया था. अब एक बार फिर संबंधित कोर्ट ने इस याचिका को निरस्त कर दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading