VIDEO: मेधावी छात्रों को लैपटॉप या स्कूटी देने पर सरकार का जारी है सस्पेंस

मध्य प्रदेश सरकार प्रदेश के मेधावी छात्रों को लैपटॉप या स्कूटी देगी इस पर सस्पेंस जारी है. प्रदेश सरकार के मंत्री यह तय नहीं कर पा रहे कि क्या दिया जाए और कब दिया जाए.

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 15, 2019, 8:11 PM IST
Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 15, 2019, 8:11 PM IST
प्रदेश के मेधावी छात्रों को लैपटॉप या स्कूटी मिलने पर अब तक सस्पेंस बरकरार है. मेधावी छात्र अब तक लैपटॉप मिलने का इंतजार ही कर रहे है. दरअसल शिवराज सरकार में 70 प्रतिशत तक लाने वाले प्रदेश भर के छात्र-छात्राओं को लैपटॉप दिया जाता रहा है. कांग्रेस ने प्रदेश भर के मेधावी छात्रों को स्कूटी देने का वादा किया था. अब सत्ता में आने के बाद सरकार फैसला नहीं कर पा रही है कि छात्रों को पिछली सरकार की ही तरह लैपटॉप दें.वादों के दम पर सत्ता में आई कांग्रेस अब अपने ही वचनों को लेकर असमंजस में है. सरकार के मंत्री खुद वचन पूरा करने में कदम पीछे हटाते दिख रहे हैं. स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी का कहना है कि देने का वादा किया था वक्त का नहीं.अभी सरकार को ही 6 महीने नहीं हुए है.स्कूटी देने का समय थोड़े तय किया था. विचार किया जा रहा है. जल्द फैसला होगा.

 मिलती रही है लैपटॉप के लिए 25 हजार की राशि

बोर्ड परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने वाले मेधावी छात्रों को लैपटॉप के लिए 25 हजार की राशि मिलती रही है. 85प्रतिशत के बाद 80 और फिर 70 प्रशितत लाने वाले छात्रों को भी लैपटॉप की राशि देने का फैसला किया गया. कांग्रेस सरकार ने मेधावी छात्रों को स्कूटी देने का वादा किया था. स्कूल शिक्षा मंत्री अब तक तय ही नहीं कर पाए हैं कि पिछली सरकार की ही तरह लैपटॉप दिया जाए या फिर स्कूटी. सरकार अब तक मेधावी छात्रों की कैटेगरी तय करने में ही जुटी है. ऐसे में अब छात्र परेशान हैं कि आखिर कब उन्हें लैपटॉप या स्कूटी मिलेगी.

ये भी पढ़ें-

VIDEO: देखें मंत्री तुलसी सिलावट के साथ कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष के साथ कैसे हुई तू-तू मैं-मैं

अनैतिक गतिविधि को लेकर होटल में पुलिस की छापेमारी, बिना आईडी प्रूफ के पकड़ाए कई जोड़े

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...