लाइव टीवी

PM मातृ वंदना योजना में मध्य प्रदेश अव्वल, केंद्र सरकार ने दिये 3 पुरस्कार
Bhopal News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: February 3, 2020, 4:32 PM IST
PM मातृ वंदना योजना में मध्य प्रदेश अव्वल, केंद्र सरकार ने दिये 3 पुरस्कार
PM मातृ वंदना योजना में मध्य प्रदेश को ३ पुरस्कार जीते

एमपी में तीन हजार डे केयर सेंटर बनाए गए हैं. बच्चों को डे केयर योजना में अतिरिक्त आहार दिया जा रहा है.माता-पिता की काउंसलिंग की जा रही है. बच्चों को मेडिकल सुविधाए दी जा रही हैं.

  • Share this:
भोपाल.कृषि कर्मण्य अवॉर्ड जीतने वाले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) ने अब पीएम मातृ वंदना योजना में भी बेहतर काम किया है. उसे केंद्र सरकार ने 3 पुरस्कारों (prize) से नवाज़ा है. योजना की सफलता और सबसे अच्छा काम करने के लिए दो प्रथम पुरस्कार और साप्ताहिक योजना में बेहतर प्रदर्शन के लिए तीसरा पुरस्कार दिया गया. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने दिल्ली में ये पुरस्कार दिए.

पीएम मातृ वंदना योजना में मध्य प्रदेश की झोली में तीन पुरस्कार आए हैं. दो अलग अलग श्रेणियों में प्रथम और एक श्रेणी में तीसरा स्थान मिला है. तीनों पुरस्कार राज्य की महिला एवम बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने ग्रहण किए.

3 केटेगरी में पुरस्कार
महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सभी विजेताओं को पुरस्कार दिए. देशभर में एक करोड़ की आबादी वाले राज्यों में योजना के अच्छे प्रदर्शन के लिए मध्यप्रदेश को प्रथम पुरस्कार मिला. इस योजना पर बेहतर अमल के लिए श्रेष्ठ ज़िले का प्रथम पुरस्कार भी मध्य प्रदेश के इंदौर को मिला. इसके अलावा साप्ताहिक योजना को लागू में मध्य प्रदेश को तीसरा पुरस्कार मिला है.

अफसरों का धन्यवाद
पुरस्कार मिलने के बाद बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने अफसरों को धन्यवाद दिया. साथ ही उन्होंने कहा इंदौर जिले के अधिकारी अच्छा काम कर रहे हैं, इसलिए लगातार पुरस्कार मिल रहे है. उन्होंने आगे कहा कि दूसरे ज़िलों में भी अच्छा काम हो रहा है. उन्होंने बताया कि कई दूसरी योजनाओं पर काम किया जा रहा है. आंगनवाड़ी केंद्रो में बाल शिक्षा केन्द्र खोल रहे हैं. 313 खुल चुके हैं 813 और खोलने जा रहे हैं. राज्य से कुपोषण को दूर करना अब हमारी सरकार का पहला लक्ष्य है.

कुछ और बेहतर होगाविभाग के सचिव सचिव अनुपम राजन ने बताया कि एमपी में तीन हजार डे केयर सेंटर बनाए गए हैं. बच्चों को डे केयर योजना में अतिरिक्त आहार दिया जा रहा है.माता-पिता की काउंसलिंग की जा रही है. बच्चों को मेडिकल सुविधाए दी जा रही हैं. आने वाले दिनों में व्यवस्था में और सुधार होगा. इसमें बजट की कमी नहीं होने दी जाएगी.

(दिल्ली से रिपोर्टर अशरफ काज़मी का इनपुट)

ये भी पढ़ें-सलमान खान और जैकलीन फर्नांडीस पहुंचे भोपाल, फैंस ने घेर ली 'दबंग' की गाड़ी

नागपुर में बैठे लोग हमें इस देश की नागरिकता नहीं दे सकते-स्वरा भास्कर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 4:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर