युवक ने कहा- लड़की के पिता ने पहले पीटा फिर गोली मारी, पुलिस को नहीं हो रहा विश्वास

भोपाल में रविवार की देर रात गोली लगने से घायल एक युवक ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि उसके पड़ोस में रहने वाली एक लड़की के पिता ने पहले उसे पीटा फिर गोली मार दी. पुलिस को उसके बयान पर भरोसा नहीं हो रहा है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 5, 2019, 5:04 PM IST
युवक ने कहा- लड़की के पिता ने पहले पीटा फिर गोली मारी, पुलिस को नहीं हो रहा विश्वास
सांकेतिक तस्वीर
News18 Madhya Pradesh
Updated: August 5, 2019, 5:04 PM IST
भोपाल में रविवार की देर रात फारुक नाम के एक युवक को गोली मार दी गई. वह घायल है और अस्पताल में भर्ती है. मामला तलैया इलाके में केवड़े के बाग के पास की है. पेशे से इलेक्ट्रीशियन उस युवक के दाएं कंधे में गोली लगी है. युवक का कहना है कि उसके पड़ोस में रहने वाली युवती के पिता ने अपने दोस्त रिजवान के साथ मिलकर पहले उसकी पिटाई की उसके बाद उसे तमंचे से गोली मारी. उस युवक की बात पर पुलिस को भरोसा नहीं हो रहा है. इसकी वजह है कि पुलिस को पता चला है कि फारुक पड़ोस में रहने वाले रिटायर्ड सैनिक की बेटी को परेशान करता था. वह उस पूर्व सैनिक को झूठे केस में फंसाने की धमकी देता था. पुलिस को संदेह है कि यह घटना पूर्व सैनिक और उसके परिवार को फंसाने की साजिश तो नहीं है.

सांकेतिक तस्वीर


देर रात की है घटना

युवक के दावे पर इस वजह से भी संदेह हो रहा है क्योंकि करीब 11 बजे रात की इस घटना में घायल फारुक ने जैसे ही पुलिस को इसकी जानकारी दी वैसे ही जब पुलिस युवती के घर पहुंची तो युवती का पिता समेत पूरा परिवार सोता मिला. तलैया थाना प्रभारी मुख्तार कुरैशी ने बताया बागउमरावदुल्हा निवासी 24 वर्षीय फारुक इलेक्ट्रीशियन है. शनिवार रात करीब 11 बजे वह मोटरसाइकिल से खाना खाने जा रहा था.

कहीं फंसाने के लिए तो नहीं मार ली गोली
पुलिस यह भी जांच कर रही कि पूर्व सैनिक को फंसाने के लिए फारुक ने खुद ही तो गोली नहीं मार ली. फारुक को अस्पताल पहुंचाने वाले की भी भूमिका पुलिस को संदिग्ध लग रही है. पुलिस का कहना कि अस्पताल पहुंचाने वाला युवक थाने में सूचना देने के बाद गायब हो गया था. फारुक को गोली लगने के पांच मिनट बाद तलैया पुलिस ने ऐशबाग पुलिस को सूचना देकर रियायर्ड सैनिक के घर भेजा. जहां, रिटायर्ड सैनिक समेत उसका पूरा परिवार सोता मिला. पुलिस का मानना है कि वारदात को यदि पूर्व सैनिक अंजाम देता तो इतनी जल्दी वह घर नहीं पहुंच पाता. इसके अलावा उसके पड़ोसियों ने भी उसे घर से आते-जाते नहीं देखा. टीआई मुख्तार कुरैशी का कहना कि घटना स्थल पर पुलिस को एक खोखा मिला है. जिसकी प्रारंभिक जांच में सामने आया कि अवैध हथियार से फारुक पर गोली चलाई गई है. घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कोई संदिग्ध नजर नहीं आया है. इसी वजह पुलिस फारुक के बयान पर  भरोसा नहीं कर ही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 5:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...