• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • मंदसौर जहरीली शराब कांड : ACS होम राजेश राजौरा करेंगे जांच, SIT का गठन

मंदसौर जहरीली शराब कांड : ACS होम राजेश राजौरा करेंगे जांच, SIT का गठन

cm शिवराज ने जहरीली शराब कांड पर गहरी नाराजगी जताई है

cm शिवराज ने जहरीली शराब कांड पर गहरी नाराजगी जताई है

Bhopal. मंदसौर जहरीली शराब कांड में थाना प्रभारी पिपल्या मण्डी, कार्यवाहक उप निरीक्षक और आबकारी उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है

  • Share this:
भोपाल. मंदसौर जहरीली शराब कांड की जांच के लिए सरकार ने एसआईटी (SIT) का गठन कर दिया है. गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा को  एसआईटी का अध्यक्ष बनाया गया है. 3 सदस्यों की टीम में 2 आईपीएस अफसरों को भी शामिल किया गया है. यह एसआईटी पूरे मामले से जुड़े हर एक पहलू पर जांच के बाद अपनी रिपोर्ट सरकार को भेजेगी.

गृह विभाग ने घटना की जांच के लिए एसआईटी का  गठन किया है. इसका अध्यक्ष गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा को बनाया गया है. एसआईटी का सदस्य जीपी सिंह ADG सतर्कता पुलिस मुख्यालय, एमएस सिकरवार IG रेल भोपाल को बनाया है. जहरीली शराब से 6 लोगों की मौत हुई थी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में अवैध शराब की रोकथाम पर बैठक ली. बैठक में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, वाणिज्य कर एवं वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव वाणिज्य कर दीपाली रस्तोगी और पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी मौजूद थे.

जहरीली शराब से मौत हत्या से कम नहीं
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा जहरीली शराब से मौत हत्या से कम नहीं है. जहरीली शराब बनाने और बेचने को संगीन अपराध की श्रेणी में रखा जाए और कठोरतम दंड की व्यवस्था की जाए. इस संबंध में कानून में आवश्यक संशोधन किए जाए. संपूर्ण प्रदेश में अवैध मदिरा के विरुद्ध तत्काल प्रभाव से अभियान आरंभ किया जाए. मंदसौर के ग्राम खकरई में हुई घटना के दोषियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाए. अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा संपूर्ण प्रकरण की जाँच कर तत्काल रिपोर्ट प्रस्तुत करें.



कार्ययोजना बनाने के निर्देश
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अवैध शराब के उत्पादन और व्यापार पर नियंत्रण के उपायों पर कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए. प्रदेश में राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल का उपयोग अवैध शराब के व्यवसाय को रोकने के लिए करने के संबंध में भी बैठक में विचार विमर्श हुआ. बैठक में ग्राम खकरई में हुई घटना के संबंध में की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी ली गई. इसमें बताया गया कि थाना प्रभारी पिपल्या मण्डी, कार्यवाहक उप निरीक्षक और आबकारी उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज