लाइव टीवी

बीजेपी का ऐलान- भोपाल निगम को बांटने वाले मसौदे का हर स्तर पर करेंगे विरोध

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 8, 2019, 1:36 PM IST
बीजेपी का ऐलान- भोपाल निगम को बांटने वाले मसौदे का हर स्तर पर करेंगे विरोध
मेयर आलोक शर्मा ने कहा, बीजेपी राजनैतिक फायदे के लिए भोपाल को बांटने के खिलाफ

भोपाल नगर निगम (Bhopal Municipal Corporation) को दो हिस्सों में बांटने वाले ड्राफ्ट (Draft) पर सियासी घमासान मच गया है. बीजेपी (BJP) ने इस मसौदे का हर स्तर पर विरोध करने का ऐलान किया है. बीजेपी ने इस मामले की शिकायत राज्यपाल (Governor) से भी की है.

  • Share this:
भोपाल. बीजेपी ने नगर निगम भोपाल को पूर्व (East) और पश्चिम (West) दो हिस्सों में बांटने वाले मसौदे के विरोध का ऐलान किया है. भोपाल मेयर आलोक शर्मा (Mayor Alok sharma) ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में कहा है कि कांग्रेस लोकतंत्र (Democracy) की हत्या कर रही है. कांग्रेस राजनीतिक फायदे के लिए भोपाल को दो हिस्सों में बांटना चाहती है. मेयर आलोक शर्मा ने सीएम कमलनाथ (CM kamalnath) से सवाल किया है कि सीएम बताएं कि भोपाल के नाले-नालियों को दो हिस्सों में कैसे बाटेंगे? आलोक शर्मा के मुताबिक बीजेपी जोड़ने का काम करती है जबकि कांग्रेस तोड़ने का काम करती है, बीजेपी हर स्तर पर इस प्रस्ताव का विरोध करेगी. आपको बता दें कि भोपाल कलेक्टर ने भोपाल निगम को दो हिस्सों में बांटने वाले मसौदे को जारी कर 7 दिन में दावे आपत्तियां मांगे हैं.

बीजेपी-कांग्रेस आमने-सामने
पहले महापौर का चुनाव प्रत्यक्ष न कराने का अध्यादेश और अब भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने की कवायद, निकाय चुनाव से पहले सरकार के इन दो बड़े फैसलों को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने सामने आ गए हैं. बीजेपी राज्यपाल तक इस मामले को लेकर शिकायत कर चुकी है जबकि कांग्रेस का कहना है कि अगर भोपाल दो हिस्सों में बंटेगा तो इससे इलाके का विकास बेहतर तरीके से होगा क्योंकि भोपाल नगर निगम का दायरा काफी बड़ा हो चुका है.

News - भोपाल कलेक्टर ने भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने वाले मसौदे को जारी कर 7 दिन में दावे आपत्तियां मांगे हैं.
भोपाल कलेक्टर ने भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने वाले मसौदे को जारी कर 7 दिन में दावे आपत्तियां मांगे हैं.


कलेक्टर ने जारी किया मसौदा
निकाय चुनाव से पहले भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों (पूर्व-पश्चिम) में बांटने का ड्राफ्ट सोमवार को कलेक्टर ने जारी कर दिया है. भोपाल पूर्व नाम से प्रस्तावित नगर निगम में 31 वार्ड होंगे. इसमें कोलार, बावड़िया, मिसरोद, बाग मुगलिया, कटारा, भेल, अयोध्या नगर, भानपुर और करोंद का इलाका आएगा. जबकि भोपाल पश्चिम नाम से प्रस्तावित नगर निगम में 54 वार्ड होंगे. इसमें एयरपोर्ट, एयरोसिटी, भौंरी, खजूरी, बैरागढ़, कलियासोत, शाहपुरा, बीयू, अशोका गार्डन, नारियलखेड़ा का इलाका शामिल है. कलेक्टर ने ड्राफ्ट जारी कर 14 अक्टूबर तक दावे आपत्ति मांगी हैं.

निगम को 2 हिस्सों में बांटने की ये है प्रक्रियाभोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने का मसौदा कलेक्टर ने जारी कर दिया है. इस पर दावे आपत्तियों के लिए 7 दिन का वक्त दिया गया है. 14 अक्टूबर तक दावे आपत्तियां मांगी गई हैं. दावे आपत्तियों के निराकरण के बाद इस मसौदे को सरकार के पास भेजा जाएगा. सरकार की मंजूरी के बाद ये राज्यपाल के पास जाएगा. राज्यपाल की मंजूरी के बाद दो निकायों के गठन की आखिरी अधिसूचना जारी होगी.

ये भी पढ़ें - 
विजयादशमी पर मोहन भागवत बोले- मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं से संघ का लेना-देना नहीं, यह RSS को बदनाम की साजिश है
विजयदशमी पर भारत आ रहा राफेल विमान है बेहद खास, हुए हैं ये 6 बदलाव

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2019, 1:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर